डीएम ने की धान क्रय केन्द्रों की प्रगति समीक्षा
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया-जिलाधिकारी अमित किशोर ने कैम्प कार्यलय में धान क्रय के प्रगति समीक्षा के दौरान केंद्र प्रभारियों को निर्देश दिया है कि वे कृषकों से धान क्रय करने में पूरी तत्परता दिखाएं। किसी भी केंद्र पर धान क्रय कदापि कम नहीं होनी चाहिए अन्यथा ऐसे केंद्र प्रभारियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी । जिलाधिकारी ने कृषकों से अपेक्षा की है कि वे धान विक्रय हेतु पंजीकरण उसी नाम से कराएं जिस नाम से उनका बैंक खाता है ताकि भुगतान सुविधाजनक तरीके से हो सके। उन्होंने एक दिन में एक किसान से अधिकक्तम 75 कुंटल धान खरीदे जाने का निर्देश दिया। कहा कि यदि उस किसान का धान 75 कुंतल से अधिक हो तो उसे 1 सप्ताह बाद की तिथि का टोकन देकर खरीद कराई जाए। धान खरीद के समय यह अवश्य ध्यान रखा जाए कि क्रय केंद्र पर एक ही गांव के किसानों से सारी खरीद न की जाए। उन्होंने समीक्षा में इस बात का विशेष रूप से ध्यान देने को कहा कि जिन केंद्रों पर धान की खरीद शून्य से लेकर 2 सौ कुंतल से कम हुई है उनकी गहन समीक्षा कर सभी केंद्रों पर अधिकाधिक खरीद सुनिश्चित कराया जाए। इसके लिए उन्होंने सभी क्रय एजेंसियों को प्रभावी तरीके से कार्य करने के कड़े निर्देश दिए। विपणन निरीक्षकों को कहा कि आप इस कार्य के नोडल अधिकारी हैं इसलिए आप सभी धान क्रय का प्रभावी अनुश्रवण करें और अधिक से अधिक धान का क्रय सुनिश्चित कराएं। इस बैठक में उप जिला अधिकारी रुद्रपुर संजीव उपाध्याय, डिप्टी आरएमओ जितेंद्र यादव, विपणन निरीक्षक गण आदि उपस्थित रहे ।