ग्राहक सेवा केन्द्र संचालक से लूट एवं हत्या की घटना का किया खुलासा, पांच बदमाश गिरफ्तार
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया-रामपुर कारखाना थाना क्षेत्रान्तर्गत बखरा बाजार में एसबीआई ग्राहक सेवा केन्द्र संचालक सर्वेश्वर पटेल पुत्र स्व0 रमेश पटेल निवासी जिगनी थाना रामपुर कारखाना जनपद देवरिया जो एसबीआई बैंक गौरीबाजार से 18 नवंबर को 05 लाख 40 हजार रूपये निकालकर वापस जा रहे थे।कि गौरीबाजार हाटा रोड एसबीटी स्कूल के पास अज्ञात बदमाशों द्वारा उनके ऊपर लाल मिर्च पाउडर फेंक कर रूपये लूटने का प्रयास किया गया, जिसके बाद ग्राहक सेवा केन्द्र संचालक तथा बदमाशों के बीच नोंक-झोंक हुआ जिसके बाद बदमाशों द्वारा ग्राहक सेवा केन्द्र संचालक को गोली मारकर हत्या करते हुए रूपये से भरा बैग लेकर फरार हो गये, जिसके संबन्ध में मृतक के भाई तारकेश्वर पटेल पुत्र स्व0 रमेश पटेल निवासी जिगनी थाना रामपुर कारखाना जनपद देवरिया की तहरीर के आधार पर थाना गौरीबाजार में अज्ञात अभियुक्तों के विरूद्ध पंजीकृत किया गया। आज पुलिस लाइन सभागार कक्ष में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक देवरिया डा0 श्रीपति मिश्र द्वारा घटना का खुलासा किया। श्री मिश्र ने बताया कि अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु अपर पुलिस अधीक्षक शिष्यपाल सिंह एवं क्षेत्राधिकारी रूद्रपुर अम्बिका प्रसाद के नेतृत्व में एसओजी टीम देवरिया, थानाध्यक्ष रामपुर कारखाना, प्रभारी निरीक्षक गौरीबाजार, प्रभारी निरीक्षक तरकुलवा एवं थानाध्यक्ष बनकटा पुलिस टीम गठित की गई। जिसके बाद पुलिस टीम ने घटना का खुलासा एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए 22 नंवबर को बखरा बाजार में मौजूद थे तभी मुखबिर की सूचना पर हाटा से बखरा रोड की तरफ मदरसन ढाले के पास हाटा रोड की तरफ से एक मोटरसाईकिल व एक चार पहिया वाहन जो एक साथ आ रही थी, जिसेे पुलिस टीम द्वारा रोकने का प्रयास किया गया, जिस पर उनके द्वारा पुलिस टीम पर फायर करते हुए भागने का प्रयास किया गया। जिसके बाद प्रभारी निरीक्षक गौरीबाजार द्वारा एक राउण्ड फायर कर घेराबन्दी करते हुए दोनों वाहनों को रोक लिया गया। मोटरसाईकिल UP52AS 4547 पेैशन प्रो से दो अभियुक्तों अवधेश यादव पुत्र मदन यादव निवासी बरपार थाना रामपुर कारखाना जनपद देवरिया मोहसीन उर्फ सोनू पुत्र मुलदा शेख निवासी महुआबारी शास्त्री नगर थाना कोतवाली जनपद देवरिया, एवं चार पहिया वाहन वैगनार UP53AS 6564 से तीन अभियुक्तों अजय यादव पुत्र महेन्द्र यादव निवासी रामपुर हिरामन थाना रामपुर कारखाना जनपद देवरिया, अभिषेक वर्मा पुत्र शिवअवतार वर्मा निवासी गौरीबाजार हाटा रोड थाना गौरीबाजार देवरिया, कामेश्वर यादव उर्फ मन्नू यादव पुत्र विशेश्वर यादव निवासी पननहा इंदुपुर थाना गौरीबाजार जनपद देवरिया को गिरफ्तार किया गयाअभियुक्त अवधेश यादव के पास से एक देशी तमंचा व दो अदद कारतूस एवं एक लाख 14 हजार रूपये, अभियुक्त मोहसीन के पास से एक पिस्टल, तीन कारतूस एवं एक लाख 44 हजार रूपये, अभियुक्त अजय यादव के पास से एक लाख चार हजार रूपये, अभियुक्त अभिषेक वर्मा के पास से 64 हजार रूपये, अभियुक्त कामेश्वर यादव के पास से एक देशी तमंचा व एक कारतूस एवं 92 हजार रूपये बरामद किया गया, इसके अतिरिक्त चार पहिया वाहन की डिग्गी से एक बैग में मृतक सर्वेश्वर पटेल के ग्राहक सेवा केन्द्र संबन्धित कागजात, चेक बुक, मार्कशीट आदि बरामद किया गया। अभियुक्तों से बरामद रूपयों एवं कागजात के संबन्ध में कड़ाई से पूॅछ-ताॅछ करने पर उनके द्वारा बताया गया कि घटना की 18नवंबर से दो दिन पूर्व से अभिषेक वर्मा के मकान से ग्राहक सेवा केन्द्र के संचालक सर्वेश्वर पटेल के ऊपर हम लोग नजर बनाये रखे थे। जब सर्वेश्वर पटेल एसबीआई बैंक गौरीबाजार से रूपये निकाल कर एसबीटी स्कूल के पास पहॅुचे कि हम लोग भी पीछे लगे हुए थे और वहीं पर अभियुक्त मोहसीन व एक अन्य द्वारा मोटरसाईकिल से सर्वेश्वर पटेल को ओवरटेक कर उसके ऊपर मिर्च पाउडर फेंक दिया गया, किन्तु सर्वेश्वर पटेल रूपये का बैग लेकर भागने लगा, जिस पर अभियुक्तों द्वारा उसे पकड़कर बैग लेने का प्रयास किया गया तथा अभियुक्त मोहसीन द्वारा मृतक सर्वेश्वर पटेल को गोली मारकर रूपयों का बैग लेकर3 मोटरसाईकिल व उसके पीछे वेगनआर वाहन से असलहा लहराते हुए भाग गये। पुलिस टीम द्वारा अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उक्त घटना में लूटे गये रूपयों में से बरामद कुल 05 लाख 18 हजार रूपये, दो देशी तमंचा, एक पिस्टल, कुल 06 कारतूस, घटना में प्रयुक्त एक मोटरसाईकिल एवं वैगनआर वाहन को कब्जे में लेते हुए नियमानुसार विधिक कार्यवाही जा रही है। एक नजर-----पुलिस अधीक्षक श्रीपति मिश्र ने बताया कि घटना का खुलासा करने वाली टीम को अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर द्वारा 25 हजार रूपये एवं पुलिस उप महानिरीक्षक परिक्षेत्र गोरखपुर द्वारा 15000रू0 नगद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की है तथा उक्त घटना के अनावरण एवं की गिरफ्तारी में अहम भूमिका निभाने वाले पुलिस कर्मियों को रजत पदक प्रदान किये जाने हेतु मेरे द्वारा संस्तुति की जा रही है।