24 घंटे में हत्या की घटना में संलिप्त पत्नी और बेटा गिरफ्तार
रिपोर्ट पी एन वर्मा ब्यूरो सीतापुर
सीतापुर पुलिस अधीक्षक सीतापुर आर पी सिंह द्वारा दिनांक 24 एक 2021 को थाना विश्वास क्षेत्र अंतर्गत गोपालापुर में हुई 60 वर्षीय व्यक्ति राजाराम की हत्या की घटना में संलिप्त अभियुक्तों की से गिरफ्तार शीघ्र गिरफ्तारी हेतु टीम का गठन किया था उक्त क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी डॉ राजीव दीक्षित के निकट पर्यवेक्षण एवं क्षेत्राधिकारी विश्वा के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा 24 घंटे के अंदर घटना में संलिप्त दो अभियुक्तों मृतक की पत्नी व बड़े बेटे को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है तथा अभियुक्तों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त एक आदत आला कत्ल लकड़ी की मुंगरी भी बरामद किया गया है प्राप्त जानकारी के अनुसार दिनांक 24 एक 21 को राजा राम पुत्र रामचरण रैदास उम्र 60 वर्ष निवासी ग्राम गोपालापुर मजरा कुतुबपुर थाना विश्वा सीतापुर घर के अंदर मृत पाए गए जिन के जिनके चेहरे पर चोट के निशान थे मृतक के बड़े पुत्र नरेश द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर दिनांक 24 एक 21 को थाना विश्वा में मुकदमा संख्या 44 बटा 21 धारा 302 भवदीय बनाम 22th वाहक शक के आधार पर श्यामलाल पुत्र कल्लू निवासी गोपालापुर पंजीकृत किया गया था घटना की जांच की गई तो घटना में नामित आरोपी श्यामलाल किशन लिखता गलत पाई गई तथा मृतक के छोटे पुत्र राजेश द्वारा दी गई तहरीर तथा स्थलीय निरीक्षण एवं जांच में मृतक के बड़े पुत्र नरेश एवं पत्नी राजरानी निवासी ग्राम गोपालापुर थाना विश्वा वर्तमान निवासी गण मास्टर बाग थाना कमलापुर द्वारा घटना करने की बात प्रकाश में आई जिसके आधार पर दोनों को हिरासत में लेकर जानता से पूछताछ की गई तो यह तथ्य प्रकाश में आया कि मृतक अपने छोटे बेटे राजेश के साथ अपनी पत्नी व अपने बेटे नरेश से करीब 3 वर्ष से मास्टर बाग में अपने ही घर में अलग रहता था तथा पति और पत्नी में कोई संबंध नहीं था पत्नी व बड़ा बेटा नरेश इस बात को लेकर आशंकित थे कि मृतक अपनी संपत्ति अपने छोटे बेटे राजेश को दे सकता है जिसको लेकर करीब 2 माह पूर्व मास्टर बाग में अभियुक्त गण मां व बेटे नरेश ने की हत्या की योजना बनाई थी दिनांक 22 एक 2021 की शाम को दोनों अभियुक्त एवं बड़ा बेटा नरेश शौचालय निर्माण हेतु धनराशि प्राप्त करने का बहाना बनाकर मृतक राजा राम को ग्राम गोपालापुर के घर में लेकर आए थे तथा रात को मृतक की पत्नी और बेटे नरेश द्वारा मिलकर लेटे हुए राजाराम पर लकड़ी की मुंगरी से प्रहार कर हत्या की गई तत्पश्चात सुबह को हाल पता मास्टर बाग लौट गए पुनः 241 21 को गोपालपुर आकर अपने पिता की हत्या हो जाने की संबंध में सूचना देकर वॉइस तो वाहक संदेह के आधार पर श्यामलाल के विरुद्ध थाना विश्वा में अभियोग पंजीकृत कराया गया अभियुक्तों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त एक अदालत लकड़ी की मुंगरी भी बरामद किया गया है गिरफ्तार अभियुक्त गण का चालान अंतर्गत धारा 302 व 34 भवदीय में माननीय न्यायालय किया जा रहा है गिरफ्तार करने वाली टीम प्रभारी निरीक्षक इंद्रजीत सिंह उप निरीक्षक रामेश्वर सिंह कांस्टेबल दानवीर सिंह कांस्टेबल मयंक कांस्टेबल महिला प्रमिला मौर्य आदि शामिल रहे