एसपी के निर्देश पर 3,33,278.80 रूपये दोनो पीड़ित व्यक्तियों के खाते में कराया गया वापस
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया-पुलिस अधीक्षक देवरिया, डाॅ0 श्रीपति मिश्र द्वारा बताया कि आज के आधुनिक परिवेश में सबसे अधिक साइबर फ्राड फोन करके ओटीपी,एटीएम कार्ड का डिटेल व खाते से जुड़ी जानकारी प्राप्त करके ऑनलाइन वैलेट के माध्यम से किया जा रहा है।साइबर फ्राॅड से बचने का सबसे अच्छा उपाय है जागरूकता, फोन पर किसी भी व्यक्ति को अपने खाते से सम्बन्धित जानकारी साझा न करें।बैंक किसी भी खाताधारक का डिटेल नही पूछता है।पैसे निकालते समय बूथ में अकेले ही प्रवेंश करें व अपना पासवर्ड छुपा कर दर्ज करें।अधिकतर साइबर अपराधी एटीएम बूथ में भीड़ का फायदा उठाकर साथ ही बूथ के अन्दर प्रवेश कर जाते है एवं सामने वाले व्यक्ति के पैसा निकालते समय ही उसका एटीएम कार्ड नम्बर व पासवर्ड याद कर लेते है।जिसका भनक तक सामने वाले व्यक्ति को नही लगती है कि उसका कार्ड नम्बर व पासवर्ड चोरी हो गया है।यदि इस तरह का किसी भी प्रकार का शक हो तो तत्काल स्थानीय पुलिस को इसकी सूचना दे।