अस्पताल में प्रसूता की मौत ,अस्पताल प्रशासन के शर्मनाक बोल कहा- हॉस्पिटल में मौतें होती रहती हैं
रवि प्रताप(विशाल) ब्यूरो चीफ, महराजगंज। शैलेन्द्र यादव की रिपोर्ट:
महाराजगंज जिला संयुक्त चिकित्सालय में इलाज के दौरान एक प्रसूता की दर्दनाक मौत हो गई महिला की मौत के बाद अस्पताल प्रशासन का गैर जिम्मेदाराना बयान भी सामने आया है अस्पताल ने कहा कि अस्पताल में मौतें तो होती रहती हैं जी हां यह शर्मनाक बयान जिला संयुक्त चिकित्सालय महाराजगंज से आया है जिसमें यह बयान सुनकर हर किसी का सर शर्म से झुक गया है सदर कोतवाली धनेवा धनई गाँव के टोला सुकठिया निवासी रेनू 27 साल पत्नी अभिमन्यु चौरसिया गर्भवती थी बीती रात उसे पेट में बहुत ही दर्द हुआ यह देख उसे जिला अस्पताल लाया गया है वह दर्द के मारे तड़पती रही थी जच्चा बच्चा वार्ड में भर्ती महिला को अचानक ज्यादा खून बह जाने से उसकी हालत बहुत ही ज्यादा खराब हो गई इलाज के दौरान उसे दो बार खून भी चढ़ाया गया फिर सुबह रेनू की अस्पताल में मौत हो गई तैनात डॉक्टरों से जब इस संदर्भ में मौत की वजह पूछी गई तो उन्होंने बेहद ही गैर जिम्मेदाराना बयान दिया अस्पताल प्रशासन ने कहा यह हॉस्पिटल है और हॉस्पिटल में मौतें होना आम होती हैं एक परेशान बीमार और बेबस मरीज डॉक्टर को भगवान का स्वरूप मानता है लेकिन इन्हें किसी के मर जाने से उस पर गलत बयान करने से कोई फर्क नहीं पड़ता परिजनों का कहना है कि रेनू की मौत जिला अस्पताल की लापरवाही से हुई है।