जनजागरूकता रैली को डीएम ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
1-11वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर आयोजित हुआ वृहद जनजागरूकता कार्यक्रम। 2-सभी माध्यमिक विद्यालयों, कार्यालयों आदि में मतदाता जागरूकता की दिलाई गई शपथ। 3-पहली बार मतदाता बने युवाओं को डीएम ने दिया मतदाता पहचान पत्र। 4-मतदाताओं के सुविधा के लिये आयोग द्वारा किया गया ई-इपिक एप की शुरुआत 5-मोबाइल पर ही ई-इपिक को किया जा सकता है डाउनलोड 6-मतदाता जागरुकता से जुडे विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम छात्र/छात्राओं द्वारा किया गया प्रस्तुत 7-सीएससी केन्द्रो पर भी आयोजित हुआ मतदाता जागरुकता कार्यक्रम देवरिया जनपद में 11 वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर राजकीय इंटर कालेज में विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये गये, इसके पूर्व मतदाता जागरुकता रैली एनसीसी व स्काउट गाइडो, छात्र-छात्राओं आदि की राजकीय इंटर कालेज से ही निकाली गयी, जिसको हरी झण्डी दिखाकर जिलाधिकारी अमित किशोर ने रवाना किया, वही पूरे रुट तक इस रैली का नेतृत्व किया। इस अवसर पर स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा मतदाता जागरुकता से जुडे नृत्य, नाटक व गीत प्रस्तुत किया गया। जिलाधिकारी ने नये मतदाताओं को वोटर पहचान पत्र भी दिया तथा उत्कृष्ट कार्य करने वाले सुपरवाइजर एवं बीएलओ को प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किया। राजकीय इंटर कालेज में आयोजित इस कार्यक्रम का शुभारम्भ सरस्वती जी चित्र पर पुष्प अर्पित कर किया गया। उपस्थित जनो को शपथ भी दिलाया गया। जिलाधिकारी अमित किशोर ने सम्बोधन में कहा कि हर साल 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। यह दिवस प्रत्येक नागरिक के लिए अहम है। इस दिन प्रत्येक नागरिक को अपने राष्ट्र के प्रत्येक चुनाव में भागीदारी की शपथ लेनी चाहिए, क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति का वोट ही देश के भावी भविष्य की नींव रखता है। इस दिन देश में सरकारों और अनेक सामजिक संथाओं द्वारा लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है जिससे कि देश की राजनीतिक प्रक्रियाओं में लोगों की अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने कहा कि किसी विकसित और मजबूत राष्ट्र एवं स्वस्थ समाज की आधार शिला मतदाता होते हैं। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जो लोग 01 जनवरी 2021 को 18 वर्ष की आयु पूरी कर ली है वे अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करायें। इसके लिये वे तहसील से लेकर सहज सेवा केन्द्रो पर भी अपने नाम जोडने हेतु फार्म-6 फरकर उपलब्ध करा सकते है। -मतदाताओं के सुविधा के लिये आयोग द्वारा किया गया ई-इपिक एप की शुरुआत-- जिलाधिकारी ने इस दौरान यह भी जानकारी दी कि आधार कार्ड की तर्ज पर अब मतदाता वोटर कार्ड भी मोबाइल अथवा सायबर कैफे पर वोटर आईडी डाउनलोड कर सकेंगे। आयोग की ओर से ई. इपिक एप शुरू किया गया है। इसके तहत वोटर आई डी भी डिजिटलाइज्ड होगी। मोबाइल अथवा कंप्यूटर पर इसे डाउनलोड किया जा सकता है। मोबाइल में भी इसे मतदाता स्टोर कर सकते हैं। डिजिलाकर पर भी अपलोड कर सकता है। साथ ही प्रिंट करते हुए लेमीनेट भी आधार कार्ड की तर्ज पर कराया जा सकता है। यह नए पंजीकृत हुए मतदाताओं को जारी किए गए पीवीसी इपिक के अतिरिक्त है। एक फरवरी से सभी मतदाताओं की ओर से ई इपिक डाउनलोड किए जा सकेंगे। जिनका मोबाइल नंबर ई. रोल में पंजीकृत है अन्यथा ई.केवाईसी के बाद संबंधित मतदाता ई-इपिक डाउनलोड कर सकता है। उन्होंने बताया कि इस नई व्यवस्था से आयोग अब मैनुअल कार्ड के साथ ही डिजिटल कार्ड की सुविधा देगा। वोटर आईडी डाउनलोड करने से पहले वेरीफिकेशन की व्यवस्था की गई है। एप पर इसका लिंक होगा। वोटर लिंक पर जाकर अपना नाम और वोटर आईडी डालेंगे। इसके बाद वेरीफिकेशन होगा। -जिलाधिकारी ने 10 नये मतदाओं को सांकृतिक रुप में दिया मतदाता पहचान पत्र---- संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत 18 वर्ष अर्हता आयु पूर्ण करने वाले 10 नये मतदाताओ ंको मतदाता पहचान पत्र दिया गया, जिसमें प्रमुख रुप से राजन मद्धेसिया, आयूष, शिवम गुप्ता, किशन कुमार, पूजा प्रसाद, अंशु भारती, अंजनी साहनी, झगरु प्रसाद, गुड्डी, अंकित गोयल आदि प्रमुख रुप से सम्मिलित हैं। संक्षिप्त पुनरीक्षण में 20 हजार बने नये मतदाता--- उप निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुंवर पंकज ने अपने संबोधन में कहा कि संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत 20 हजार से अधिक मतदाताओं के नाम जोडे गये है। उन्होंने जनपद के समस्त बालिग युवक एवं युवतियों से मतदाता बनने एवं अपने मताधिकार का प्रयोग करने का आवाहन किया। मुख्य राजस्व अधिकारी अमृत लाल बिन्द ने भी आयोजित गोष्टी को सम्बोधित किया एवं मतदाता दिवस के संबंध में प्रकाश डाला। इस अवसर पर विभिन्न विद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को मतदान के प्रति जागरूक किया गया। सरस्वती वन्दना व स्वागत गीत छात्रा श्रुति दुबे, जीआईसी के छात्र अमन विश्वकर्मा, सपना द्वारा प्रस्तुत किया गया। सोनी विश्कर्मा, जीआईसी की छात्रा प्रिया, आंचल, महाराजा अग्रसेन बालिका विद्यालय की छात्राओं द्वारा नृत्य, छात्र रवि प्रकाश की टीम द्वारा नृत्य, दीनानाथ महिला महाविद्यालय के छात्राओं द्वारा नृत्य-नाटक आदि मतदान के प्रति जागरुकता पर आधारित प्रस्तुत किया गया। गायक राम प्रताप चैहान द्वारा भी लोकगीत प्रस्तुत किया गया। संचालन मंजू पाण्डेय द्वारा किया गया। सेवानिवृत्त स्काउट गाईड अध्यापक रमाकान्त मिश्रा ने भी मतदाता जागरुकता के प्रति स्लोगनो को दोहरवाया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य जीआईसी पीकेशर्मा, डीआईओएस, व्यायाम शिक्षक संजय मिश्रा, नायब तहसीलदार गण, शंकर मिश्रा, राकेश प्रकाश, विजय पाण्डेय,छात्र-छात्रायें, स्काउट गाइड, एनसीसी कैडेट व अध्यापक, अध्यापिकायें, आगनवाडी कार्यकर्ति, बी0एल0ओ0 व सुपरवाइजर, सीडीपीओ सतेन्द्र कुमार सिंह, दयाराम, अजय नायक, ऋचा पाण्डेय, प्रबुद्धजन आदि प्रमुख रुप से उपस्थित रहे। सीएससी केन्द्रो पर भी आयोजित हुआ मतदाता जागरुकता कार्यक्रम----- सीएससी ई गवर्नेंस द्वारा संचालित सीएससी केन्द्रो पर भी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सीएससी केन्द्रो पर वरिष्ठ पदाधिकारियों के उपस्थिति में मतदाताओं द्वारा मतदान करने हेतु शपथ ग्रहण का आयोजन किया गया इसी क्रम में जिला के सीएससी जिला प्रबन्धक अभिमन्यु शर्मा और जिला समन्यवक गौरव पांडेय ने बताया कि जिले में कुल 20 केन्द्रों पर मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिला प्रबन्धक ने बताया कि चुनाव आयोग से सम्बंधित सभी सेवाएं सीएससी केन्द्रो के माध्यम से उपलब्ध कराई जा रही है जिसमे ग्रामीण जनता अपने ग्राम पंचायत में मतदाता पहचान पत्र संबंधित सभी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।