पंचायत चुनाव में अभी भी बन सकते हैं मतदाता
*अभिषेक कुमार यादव की रिपोर्ट*
गोरखपुर ःराज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलों के निर्वाचन अधिकारी को दिशा निर्देश दिया है कि अगर कोई अपना नाम जुड़वाना चाहता है तो वह पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने तक यह काम करा सकता है. गोरखपुर. उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के लिए प्रदेश की मतदाता सूची तैयार हो गई है. इस बार जहां मतदाताओं की संख्या बढ़ी है, वहीं कई ऐसे वोटर भी हैं जिनका नाम काट दिया गया है, क्योंकि वे शहर में भी मतदाता थे. लेकिन मतदाता सूची जारी होने के बाद भी इच्छुक वोटर अपना नाम सूची में दर्ज करवा सकते हैं. राज्य निर्वाचन आयोग पंचायत चुनाव में अभी भी बन सकते हैं मतदाता, करना होगा ये काम. राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलों के निर्वाचन अधिकारी को दिशा निर्देश दिया है कि अगर कोई अपना नाम जुड़वाना चाहता है तो वह पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने तक यह काम करा सकता है.उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के लिए प्रदेश की मतदाता सूची तैयार हो गई है. इस बार जहां मतदाताओं की संख्या बढ़ी है, वहीं कई ऐसे वोटर भी हैं जिनका नाम काट दिया गया है, क्योंकि वे शहर में भी मतदाता थे. लेकिन मतदाता सूची जारी होने के बाद भी इच्छुक वोटर अपना नाम सूची में दर्ज करवा सकते हैं. राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलों के निर्वाचन अधिकारी को दिशा निर्देश दिया है कि अगर कोई अपना नाम जुड़वाना चाहता है तो वह पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने तक नाम जोड़ने और कटवाने का काम होगा. अगर हम बात गोरखपुर जिले की करें तो इस बार करीब 30 लाख मतदाता अपनी पंचायतों के प्रतिनिधि का चुनाव करेंगे. चुनाव के लिए मतदाता अभियान शुरू होने के पहले कुल मतदाता संख्या 27.40 लाख थी. लेकिन दो चरणों में चले मतदाता अभियान में 2.60 लाख मतदाता बढ़ गए हैं. निर्वाचन कार्यालय( पंचायत) से मिली जानकारी के मुताबिक 28 दिसंबर से चले अभियान में 93729 मतदाता बढ़े. इस अवधि में 76739 मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से काटे भी गए. इस तरह कुल बढ़े हुए मतदाताओं की संख्या करीब 16990 रही है. शुक्रवार को प्रशासन ने मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन भी कर दिया है. मतदाता बनने का अभी भी मौका मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन भले ही हो गया, लेकिन अभी भी कोई मतदाता बनने से वंचित है तो वह आवेदन कर सकता है. जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने की तिथि के पहले तक नाम जोड़ा और काटा जाएगा. निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी यानी एसडीएम और पंचायत निर्वाचन कार्यालय में निर्धारित फार्म पर आवेदन करना होगा. निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक इन आवेदनों का निस्तारण नामांकन के आखिरी दिन तक करना होगा. अधिकारी को दिशा निर्देश दिया है कि अगर कोई अपना नाम जुड़वाना चाहता है तो वह पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने तक नाम जोड़ने और कटवाने का काम होगा. अगर हम बात गोरखपुर जिले की करें तो इस बार करीब 30 लाख मतदाता अपनी पंचायतों के प्रतिनिधि का चुनाव करेंगे. चुनाव के लिए मतदाता अभियान शुरू होने के पहले कुल मतदाता संख्या 27.40 लाख थी. लेकिन दो चरणों में चले मतदाता अभियान में 2.60 लाख मतदाता बढ़ गए हैं. निर्वाचन कार्यालय( पंचायत) से मिली जानकारी के मुताबिक 28 दिसंबर से चले अभियान में 93729 मतदाता बढ़े. इस अवधि में 76739 मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से काटे भी गए. इस तरह कुल बढ़े हुए मतदाताओं की संख्या करीब 16990 रही है. शुक्रवार को प्रशासन ने मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन भी कर दिया है. मतदाता बनने का अभी भी मौका मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन भले ही हो गया, लेकिन अभी भी कोई मतदाता बनने से वंचित है तो वह आवेदन कर सकता है. जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने की तिथि के पहले तक नाम जोड़ा और काटा जाएगा. निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी यानी एसडीएम और पंचायत निर्वाचन कार्यालय में निर्धारित फार्म पर आवेदन करना होगा. निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक इन आवेदनों का निस्तारण नामांकन के आखिरी दिन तक करना होगा.