उत्तर प्रदेश दिवस का आज टाउनहाल आडिटोरियम में हुआ आगाज
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट देवरिया-उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित “उत्तर प्रदेश दिवस” का आज से आगाज हुए तीन दिवसीय कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि सदर विधायक डा0सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी, जिलाधिकारी अमित किशोर, पुलिस अधीक्षक डा0श्रीपति मिश्र एवं मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी0एन0 ने टाउनहाल परिसर में लगाये गये प्रदर्शनी का शुभारम्भ फीता काटने के साथ किये तथा आडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्वलन करने के साथ किया गया। इस अवसर पर विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों एवं विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले लगभग 200 कर्मचारियों, लाभार्थियों एवं युवा प्रतिभाओं को प्रशस्ति पत्र देकर जहां सम्मानित किया गया, वही लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र आदि प्रदान किया गया। इस दौरान उद्योग विभाग द्वारा स्वरोजगार स्थापना के लिये 2 उद्यमियों को 35 लाख का ऋण स्वीकृति पत्र, दुग्ध विभाग की संचालित योजना के तहत 2 लाभार्थियों को 72 हजार का बैंक ड्राफ्ट भी दिया गया। कार्यक्रम के पूर्व लखनऊ में आयोजित उत्तर प्रदेश दिवस कार्यक्रम के मुख्यमंत्री जी के सम्बोधन का सजीव प्रसारण हुआ, जिसे उपस्थित जनो द्वारा देखा गया। मुख्य अतिथि सदर विधायक डा0सत्यप्रकाश मणि ने उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह सरकार आने के पश्चात उत्तर प्रदेश दिवस मनाये जाने का निर्णय लिया गया, ताकि लोग उत्तर प्रदेश के विविधताओं, सांस्कृतिक विरासत, अध्यात्मिक व पौराणिक पहचानो को भलि-भांति जाने और इससे प्रेरणा भी युवा वर्ग लें। उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश कृषि उत्पाद में जहां नम्बर एक पर है वही मानव सम्पदा में भी सबसे आगे है। उत्तर प्रदेश में ही शिक्षा के अग्रणी विश्वविद्यालय प्रयागराज और बीएचयू है तथा सांस्कृतिक विरासत का केन्द्र वाराणसी भी यही है। सरकार का ध्येय सबके लिये काम करना तथा सबका साथ-सबका विकास है। उन्होने कहा कि युवा वर्ग को स्थानीय स्तर पर यदि कोचिंग की सुविधा मिलेगी तो इससे युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं में काफी सुविधा होगी इसके लिये उन्होने कहा कि ऐसी व्यवस्था यदि जनपद में बनेगी और उसमें जहां मेरी जरुरत महसूस होगी उसके लिये तत्पर रहूंगा। जिलाधिकारी अमित किशोर ने कहा कि बहुत सारी जन कल्याणकारी योजनायें संचालित है। उसके स्टाल भी लगाये गये है, जिसके माध्यम से लाभ लिया जा सकता है। उन्होने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओ के लिये युवाओं को कोई परेशानी न हो इसके लिये सृजन-50 पूर्व में ही जनपद में बनायी गयी है। प्रतियोगी परीक्षार्थियों के लिये क्षमता वृद्धि का कार्य भी किया जायेगा। उनके कौशल में भी निरन्तर विकास की जरुरत के लिये उसकी संरचना को विकसित करने का कार्य किया जायेगा। उन्होने कहा कि उद्योग स्थापना, ओडीओपी को और आगे बढाने के साथ रोजगार के अवसर अधिक से अधिक उपलब्ध कराये जायेगें। आंगनवाडी केन्द्र को प्ले स्कूल के रुप में विकसित करने का कार्य किया जायेगा मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी0एन0 ने कहा कि लाभार्थीपरक योजनाओं के तहत दी जाने वाली धनराशि उनके खाते में सीधे भेजे जाते है। इस लिये बिचैलियों के चक्कर में न आये। यदि किसी के द्वारा किसी भी योजनाओं में धनउगाही की बात की जाये तो उसकी जानकारी दें, ऐसे लोगो के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी। अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुवर पंकज ने प्रदेश व देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिये आगे बढ कर कार्य करने की सभी से अपेक्षा की। साथ ही उन्होने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के संबंध में विस्तृत जानकारी दिये। मुख्य राजस्व अधिकारी अमृत लाल बिन्द ने स्वामित्व योजना व वरासत अभियान पर विस्तृत प्रकाश डाला। मुख्य अतिथि सदर विधायक श्री त्रिपाठी, डीएम, एसपी, सीडीओं आदि के द्वारा लगाये गये विभिन्न स्टालो का अवलोकन किया गया एवं संबंधित अधिकारियों को जनमान्य को संचालित योजनाओं की जानकारी दिये जाने का भी निर्देश दिया गया। उन्होने आम जन से भी अपेक्षा किये कि स्टालो पर पहुॅचकर योजनाओं की जानकारी करें और उसका लाभ उठायें। मुख्य अतिथि सहित अन्य उपस्थित अतिथियों का स्वागत पुष्पगुच्छ प्रदान कर किया गया। सरस्वती वंदना एवं स्वागत गीत राजकीय कस्तूरबा बालिका विद्यालय की छात्रायें सुरभि, शिखा, वर्षा, श्रद्धा द्वारा प्रस्तुत किया गया। कुशल व ओजस्वी संचालन मंजू पाण्डेय द्वारा किया गया। आज जिन विभागो के लाभार्थियों को प्रमुख रुप से स्वीकृति पत्र आदि दिया गया, उनमें उद्योग विभाग की संचालित योजना विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत 10 तथा उद्योग स्थापना हेतु जितेन्द्र कुमार गौंड को 25 लाख एवं पंकज कुमार को 10 लाख का ऋण स्वीकृति पत्र, दुग्ध विकास विभाग की संचालित योजना गोकुल योजना के तहत गोरखनाथ तिवारी को 51 हजार एवं नंद बाबा योजना में करुणानिधि मिश्र को 21 हजार का बैंक ड्राफ्ट एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किया जाना सम्मिलित है। इसके साथ ही मनरेगा के 10, कृषि विभाग के 12, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत 9, श्रम विभाग के 7, समाज कल्याण की संचालित शादी अनुदान के तहत 01 एवं वृद्धावस्था पेंशन के 5 लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र प्रदान किया गया। प्रधानमंत्री आवास शहरी के 10, कन्या जन्मोत्सव के 6, कन्या सुमंगला योजना के 3, निराश्रित महिला पेंशन के 14 लाभार्थियों एवं मुख्यमंत्री आवास योजना सहित अन्य योजनाओं के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र दिया गया। बेसिक शिक्षा विभाग के 31 उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षक/शिक्षिकाओं, नगरपालिका एवं पंचायतीराज विभाग के 10-10 सफाई कर्मियों, मिशन शक्ति के 8, युवा कल्याण विभाग के 5 क्षेत्रीय युवा कल्याण अधिकारियों एवं युवा कल्याण की आयोजित खेलकूद प्रतियोगिताओं में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 6 प्रतिभाशाली खिलाडियों, माध्यमिक शिक्षा विभाग के 11 छात्र/छात्राओं, ग्रामीण आजीविका मिशन योजना अन्तर्गत उत्कृष्ट कार्य करने वाले 8 स्वयं सहायता समूहो तथा आंगनवाडी कार्यकर्तियों को भी प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।मिशन शक्ति में उत्कृष्ट कार्य करने के लिये हेमा त्रिपाठी, दिव्या यादव, मालामणि त्रिपाठी, शाईस्ता परवीन, मीनू जायसवाल, बिभा पाण्डेय, श्रवण कुमार एवं संचालिका मंजू पाण्डेय को प्रशस्ति पत्र देकर उन्हे सम्मानित किया गया। माध्यमिक शिक्षा विभाग के यूपी बोर्ड की परीक्षाओ में उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाले छात्रा सुजीता निषाद हाईस्कूल, साजिद अंसारी, संजना साह, आशुतोष पाण्डेय, अमृता मिश्रा इंटरमीडिएट एवं चन्द्रमणि चैहान, सत्यानन्द गौंड को क्विज प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये तथा मोनू गौंड व निवेदिका मिश्रा को विज्ञान प्रदर्शनी तथा समीर शेखर एवं शुभम पाण्डेय को चित्रकला में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये अतिथियों द्वारा उन्हे प्रशस्ती पत्र देकर के सम्मनित किया गया।इस अवसर पर उद्यान, कृषि, एक जनपद एक उत्पाद, बैकर्स, ग्राम्य विकास, डूडा, प्रोबेशन, यातायात, परिवहन, स्वास्थ, बाल विकास, सेवायोजन, दिव्यांग, बेसिक शिक्षा, मिशन शक्ति, बाल विज्ञानियों के नवाचार स्टाल आदि लगाये गये थे।आयोजित इस कार्यक्रम में ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट सुमित यादव, अपर पुलिस अधीक्षक रामयश सिंह, जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार, एलडीएम राकेश कुमार, डीएसटीओ मनोज कुमार श्रीवास्तव, पीडी संजय पाण्डेय, डीसी एनआरएलएम गजेन्द्र त्रिपाठी, उप निदेशक कृषि डा ए के मिश्र, बीएसए सन्तोष राय, जिला प्राबेशन अधिकारी प्रभात कुमार, प्रधानाचार्य जीआईसी पीके शर्मा, जिला कृषि अधिकारी मो0मुजम्मिल, उपायुक्त उद्योग के के अमर, डीएचओ सीतारात यादव, युवा कल्याण अधिकारी अनित कुमार, डा0सन्तोष चतुर्वेदी, भाजपा कार्यकर्ता संजय तिवारी, संजय पाण्डेय, मण्डल अध्यक्ष देवरिया नगर, रामदास मिश्रा, अम्बिकेश पाण्डेय, दुग्ध विकास के अशोक उपाध्याय सहित प्रबुद्धजन गण आदि उपस्थित रहे।