फर्जी फाइनेंस कंपनी बनाकर लोन के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले अंतर्जनपदीय साइबर अपराधी गैंग के तीन सदस्य गिरफ्तार
रिपोर्ट पी एन वर्मा ब्यूरो सीतापुर
एस पी बी सीतापुर पुलिस अधीक्षक सीतापुर आर पी सिंह द्वारा साइबर अपराधों पर नियंत्रण हेतुटीम गठित कर साइबर क्राइम सेल को निर्देशित किया था उक्त निर्देशों के क्रम में साइबर क्राइम के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत साइबर क्राइम सेल व थाना कोतवाली नगर की संयुक्त टीम द्वारा तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया साइबर सेल सीतापुर को विगत कई दिनों से सूचना मिल रही थी कि स्टार फाइनेंस नामक फर्जी कंपनी कम ब्याज पर लोन देने का लालच देकर लोगों से ठगी कर रही है इस सूचना पर पुलिस अधीक्षक सीतापुर के आदेश अनुसार नरेंद्र प्रताप सिंह अप्पर पुलिस अधीक्षक दक्षिणी के निर्देशन में पीयूष कुमार सिंह क्षेत्राधिकारी साइबर क्राइम नगर के नेतृत्व में साइबर सेल टीम को अभी सूचना संकलन डिजिटल साथ एकत्रित कर साइबर अपराधियों के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही हेतु आवश्यक आदेश निर्देश दिए गए थे इस संबंध में थाना कोतवाली नगर में मुकदमा संख्या 634 बटा 20 धारा 419 बटे 420 467 648 471 भवदीय मुकदमा संख्या 34 बटा 21 धारा 419 बटा 20 467 बटे 648 बटा 471 भवदीय पंजीकृत किए गए मुक्त अभियोग ओ के वादियों सेलोन के नाम पर अपने रिमूवल पेन से कैंसिल किए गए दो चेक प्राप्त कर बाद में चेक से कैंसिल शब्द हटाकर कुल द2 77000 रुपया की धनु राशि बैंक से प्राप्त कर ली गई थी उक्त पंजीकृत अभियोग ओं के अनावरण में साइबर टीम द्वारा डिजिटल संसाधनों की मदद से अभियुक्तों की पहचान स्पष्ट की गई दिनांक 17 एक 2021 को साइबर सेल व थाना कोतवाली पुलिस द्वारा को साइबर सेल व थाना कोतवाली पुलिस द्वारा तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय भेजा जा रहा है अभियुक्तों का अपराध क्षेत्र उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त उत्तराखंड राजस्थान में भी हैगिरफ्तार किए गए अभियुक्त पृथ्वी पुत्र गज राम सिंह निवासी गांव बाजार पुर थाना बाजार पुर जिला उधम सिंह नगर उत्तराखंड व आनंद बल्लभ आनंद बल्लभ जोशी पुत्र स्वर्गीय कांति बल्लभ निवासी मानपुर नई बस्ती थाना काशीपुर जिला उधम सिंह नगर उत्तराखंड व बिंदर सिंह पुत्र श्रीपाल सिंह निवासी मेरापुर थाना सावर जिला रायपुर उत्तर प्रदेशपकड़े गए तीनों अभियुक्त एक स्टार फाइनेंस नाम से फर्जी फाइनेंस कंपनी बनाकर उसके विज्ञापन हेतु पंपलेट बनाकर अखबार के साथ वितरित करवाते थे लोन लेने का इच्छुक व्यक्ति पंपलेट में दिए गए मोबाइल नंबर पर संपर्क करता है तो उक्त अभियुक्त आवेदक से लोन की प्रक्रिया के लिए दो बैंक चेक आधार कार्ड पैन कार्ड व अन्य दस्तावेज प्राप्त कर लेते थे बाद में रिमूवल पेन से अंकित कैंसिल शब्द हटाकर धनराज अंकित कर संबंधित बैंक से धनराशि प्राप्त कर लेते थे धनराज मिलने के पश्चात घटना में प्रयुक्त मोबाइल नंबर को बंद कर देते थे अभियुक्तों के पास से बरामद की गई सामग्री एक आदत मोबाइल फोन एंड्राइड 3 अगर मोबाइल फोन कीपैड 4 फर्जी आधार कार्ड ₹60000 नगद एक रिमूवल पेन गिरफ्तार करने वाली टीम निरीक्षक श्री विजय वीर सिंह सिरोही कांस्टेबल रोहित कुमार कांस्टेबल रवि कुमार वर्मा कांस्टेबल भूपेंद्र राणा प्रभारी निरीक्षक तेज प्रताप सिंह उप निरीक्षक निर्मल तिवारी हेड कांस्टेबल नंद कुमार व हेड कांस्टेबल संदीप सिह