*ट्रेन संचालन को लेकर ग्रामीणों ने बिछिया स्टेशन अधीक्षक को दिया ज्ञापन
बिछिया बहराइच से अभयजीत प्रजापति की रिपोर्ट रेलमंत्री पीयूष गोयल को लिखे पत्र में तत्काल ट्रेन चलाये जाने के संबंध में किया ज़िक्र एक हफ्ते में ट्रेन न चलने पर जन आंदोलन की दी चेतावनी बिछिया/पूर्वोत्तर रेलवे के बहराइच -मैलानी रेल खंड पर ट्रेन संचालन बीते लगभग एक वर्ष से बंद होने को है ऐसा लगता है कि अब तराई वासियों के सब्र का बांध अब टूट चुका है माननीय उच्च न्यायालय की लखनऊ खंड पीठ के द्वारा दिये गए दिशा निर्देश के अनुरूप गत वर्ष 23 फरवरी से उक्त ट्रेनों का संचालन शुरू होना था किंतु कोरोना वायरस संक्रमण के चलते स्थगित कर दिया गया था जो अभी तक लंबित चल रहा है ट्रेन संचालन स्थगित होने के कारण इस मार्ग पर भारी मुसीबत का सामना लोगो को करना पड़ रहा है साथ ही तराई क्षेत्र का व्यापार पूरी तरह से नष्ट होता नजर आ रहा है क्योंकि बहराइच मैलानी तराई वासियों के लिए लाइफ लाइन मानी जाती है लोगो के व्यपार का आदान प्रदान इसी ट्रेन के मध्ययम से होता था ट्रेन संचालन को लेकर एक बार फिर तराई वासी एक जुट होकर रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखा है जिसमें बहराइच मैलानी ट्रेन एक सप्ताह में चलाए जाने की मांग की है इसी क्रम में आज समाजसेवी जंग हिंदुस्तानी के नेतृत्व में सुजौली थाना क्षेत्र के लगभग सैकड़ो ग्रामीणों ने बिछिया रेलवे स्टेशन पहुँचकर स्टेशन अधीक्षक एन एन श्रीवास्तव को एक हफ्ते में ट्रेन संचालन को लेकर ज्ञापन दिया ज्ञापन में रेल मंत्री पीयूष गोयल से एक सप्ताह में पुनः ट्रेन चालए जाने की मांग की है और कहा है कि यदि एक सप्ताह में ट्रेन का संचालन नही हुआ तो फरवरी के पहले सप्ताह में बड़े पैमाने पर जन आंदोलन किया जाएगा जिसकी सारी जिम्मेदारी रेल की होगी। ज्ञापन देने वालो में बाबा फरीद,समीउद्दीन,सरोज गुप्ता,सरोज यादव,फागुनी निषाद,जय प्रकाश,दोस्त मोहम्मद,रामेश्वर,गंगासागर,हारून,मुमताज,राजकुमार,इरशाद अली,सगीर,विनीत,गुफरान,श्याजीत,भोला,आदिल,नियाज,रामजी,दीपक कुमार, नईम,सलमान,कुलविंदर सिंह,राजन,आदि मौजूद रहे।