मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ गोरखनाथ मंदिर पर खिचड़ी चढाकर लोगो की सुख समृद्धि की कामना
*रिपोर्ट -अभिषेक कुमार कैम्पियरगंज गोरखपुर*
गोरखपुर: मकर संक्रांति के पावन मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ आज सुबह 4 बजे गोरक्षनाथ मंदिर पहुंचे, जहां उन्होंने शिव अवतारी महागुरू गोरखनाथ जी को परम्परागत तरीके से पहली खिचड़ी चढ़ाई और लोगो की सुख शांति की कामना की मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के बाद नेपाल राजवंश की ओर से खिचड़ी चढ़ाई गई। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी के अलावा नाथ योगियों और साधु संतों ने खिचड़ी चढ़ाकर मंदिर में विधिपूर्वक पूजा अर्चना किया।गुरूवार को मंकर संक्राति के खास मौके पर मुख्यमंत्री योगी आज ब्रह्म मुहूर्त में श्रीनाथ मंदिर में स्नान ध्यान कर पहुंचे। उनके साथ प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ, देवी पाटन मंदिर के महंत मिथलेशनाथ, शांतिनाथ, महंत पंचानन पुरी, कालीबाड़ी के महंत रविंद्रनाथ,योगी दिनेश नाथ, योगी धर्मेंद्र नाथ, सोमनाथ, बैरागी बाबा, सोमनाथ आदि साधु संत भी मौजूद रहे। योगी आदित्यनाथ ने नाथ संप्रदाय की परम्परा के अनुसार जमीन पर बैठ कर आदिगुरु गोरक्षनाथ को प्रणाम किया। पूजा अर्चना के बाद गोरक्षपीठ की ओर से खिचड़ी चढ़ाई। उसके बाद त्रेतायुग से प्रज्ज्वलित अखण्ड ज्योति की पूजा कर आशीर्वाद लिया। प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ ने नेपाल राजवंश की ओर से खिचड़ी चढ़ाई। उसके बाद एक-एक कर सभी नाथ योगियों ने भी खिचड़ी चढ़ाई।सुबह से ही पूरा मंदिर परिसर ढोल, नगाड़ों से गूंज रहा था। श्रद्धालु गुरु गोरखनाथ के जय के नारे लगा रहे थे। यह अनुष्ठान 4:15 बजे तक चला। उसके बाद देश के कई क्षेत्रों से आए श्रद्धालुओं ने खिचड़ी चढ़ाया। गुरु गोरखनाथ मंदिर में देश और प्रदेश के कोने-कोने से आए लाखों श्रद्धालुओं ने गुरु गोरक्षनाथ को आस्था की खिचड़ी चढ़ाई सभी ने गुरु गोरखनाथ की दर्शन के लिए मंदिर में उमड़ पड़े,श्रद्धालुओं ने अपनी बारी की प्रतीक्षा करते हुए अपने आराध्य गुरु गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाई।