न्यायाधीश शिवेन्द्र कुमार मिश्र द्वारा वन स्टाप सेंटर का किया गया औचक निरीक्षण
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
आज जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के सचिव न्यायाधीश शिवेन्द्र कुमार मिश्र द्वारा वन स्टाप सेंटर देवरिया का औचक निरीक्षण किया।इस निरीक्षण के दौरान श्री मिश्र ने कहाँ जब भी कोई बालक या महिला जिनकी उम्र शून्य से जीवित तक हैं उन्हें किसी भी प्रकार का उत्पीड़न किया जाता हैं तो वह वन स्टाप सेंटर में इसकी शिकायत कर सकती हैं तथा इससे संबंधित मामले पर न्याय पा सकती हैं। बालकों एवं महिलाओं की समस्याओं को सुनने के लिए वन स्टाप सेंटर का कार्य सराहनीय हैं। घरेलू हिंसा,औ एसिड अटैक, बाल विवाह, बलात्कार, छेड़कानी, अपहरण, बाल श्रम, कार्यस्थल पर हिंसा, मानव तस्करी तथा दहेज उत्पीड़न जैसे गंभीर मामलों से संबंधित पीड़िताओं का निरंतर काउंसिल किया जाये तथा उन्हें न्याय दिलाने पर जोर दिया जायें।कोई भी पीड़ित महिला हेल्पलाईन नं0 1076, 181, 1090, 108, 102, 1098 तथा 112 पर शिकायत कर अपनी समस्या का समाधान पा सकती हैं। न्यायाधीश श्री मिश्र ने कहाँ कि यदि कोई पीड़िता किसी समस्या से परेशान हैं तो वह एक प्रार्थना पत्र जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया में प्रस्तुत कर अपनी समस्या का समाधान पा सकती हैं। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया द्वारा वन स्टाप सेंटर को दो विद्वान अधिवक्ता निःशुल्क उपलब्ध कराये गये हैं जो महिलायें तथा बालकों से संबंधित मामलें में विधिक सहायता प्रदान करते हुये आवश्यक पैरवी करेंगे। श्री मिश्र ने कहाँ कि बच्चों के मामले में तत्काल निस्तारण हेतु निर्देशित करते हुये कहा कि चाइल्ड लाइन, देवरिया तथा वन स्टाप सेंटर आपसी समन्वय बनाकर कार्य करें जिससे बच्चों को मिलने वाली सहायता आसानी से प्राप्त हो सकें। महिलाओं हेतु गाॅव-गाॅव जाकर सशक्तिकरण पर विशेष जनजागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया जायें जिससे महिलायें अपनी सामाजिक स्थिति को और सुदृढ़ बना सकें। उन्होंने रसोईघर तथा विश्रामालय का निरीक्षण किया तथा निर्देशित करते हुये कहा कि इसे और अधिक स्वच्छ रखने की जरूरत हैं जिससे शरीर हमेशा स्वस्थ रहें। उन्होंने दिनचर्या के हिसाब से बने मीनू में चना चाय हलवा, चावल दाल सब्जी रोटी नमकिन चाय पूड़ी सब्जी खीर को मौके पर उपलब्ध पाया। इस औचक निरीक्षण के दौरान बाल कल्याण अधिकारी जयप्रकाश तिवारी, केन्द्र प्रबंधक नीतू भारती, प्रभारी प्रीति सिंह, पूजा कुमारी, दीक्षा सिंह, रीना वर्मा, कांस्टेबल अर्चना यादव, सुरेखा मौर्या, वंदना कुमारी तथा सावित्री उपस्थित रहें।