एसपी ने कराया आधुनिक शस्त्रों का शस्त्र प्रशिक्षण, आधे थानाध्यक्ष पास और आधे फेल
रवि प्रताप(विशाल) ब्यूरो चीफ, महराजगंज।
आगामी पंचायत चुनाव की तैयारियों में जुटी महराजगंज पुलिस ने आज बलवा से निपटने और आधुनिक शस्त्रों को प्रयोग करने का अभ्यास किया जहाँ कई थानाध्यक्ष ने पास तो कई फेल हो गए। महराजगंज धनेवा धनेई स्थित पुलिस लाइन में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे पुलिस जवानों को बलवा से निपटने और आधुनिक शस्त्रों के प्रशिक्षण देने एसपी प्रदीप गुप्ता अपने जिले के सभी थानाध्यक्ष संग पुलिस लाइन पहुँचे।उनके इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में कई आधुनिक शस्त्र मेज पर सजाई गई थी जिसे थानाध्यक्षओं को चलाकर दिखाना था और उसे देख नए प्रशिक्षु भी सीखते लेकिन थानाध्यक्षों के अनुभव को देखकर ऐसा लगता है कि अभी इन्हें भी प्रशिक्षण की जरूरत है। जनपद के कोल्हुई थानाध्यक्ष रामसहाय चौहान- एसपी के आदेश पर रामसहाय चौहान ने पिस्टल थामा लेकिन थानाध्यक्ष महोदय से पिस्टल रोकी नही गयी पहली ही बार मे हाथ से फिसल गई,एसपी ने कहा पिस्टल खोलने को तो उन्होंने पिस्टल घुमाते घुमाते इतना समय लगाया जैसे कि आज पहली बार पिस्टल हाथ आई हो। जनपद के फरेंदा थानाध्यक्ष गिरिजेश उपाध्याय- गिरिजेश उपाध्याय से एसपी ने पिस्टल को अलग अलग भागों में करने को कहा गिरिजेश ने फटाफट असलहे को कई भागों में बाट कर पुनः स्थापित कर दिया जिससे एसपी ने उन्हें शाबाशी भी दी। महिला थानाध्यक्ष प्रभारी कंचन राय- एसपी के आदेश पर कंचन राय ने फेडरल गैस गन यानी आशु गैस गन कँधे पर ताना लेकिन एसपी के अन्य सवालों के जवाब नहीं देने पर उन्हें बैकफुट कर दिया।जिसकी बारी उनकों 45डिग्री बनाने में और समझने में थोड़ा देर किया लेकिन परिणाम ठीक दिया। आज के इस अभ्यास से तो यह साफ जाहिर हो गया है कि महराजगंज पुलिस को नियमित आधुनिक शस्त्रों के अभ्यास की जरूरत है क्योंकि कोई भी अच्छी बुरी परिस्थितियां बता कर नही आती तो ऐसे में तैयारी पहले से मजबूत होनी चाहिए।