दिव्यांग जनो के लिये संचालित योजनाओं को पूरी तत्परता से पहुॅचायें-डीएम
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
एक नजर--- शिविर में 421 कृत्रिम सहायक उपकरण किया गया वितरित 222 दिव्यांजनो का मोटराईज्ड साइकिल के लिये किया गया चिन्हांकन देवरिया- एसएसबीएल में आयोजित दिव्यांग जनो को कृत्रिम अंग वितरित किये जाने एवं उनके परीक्षण आकलन हेतु आयोजित शिविर में बतौर मुख्य अतिथि पहुॅचे जिलाधिकारी अमित किशोर ने कहा कि इस प्रकार के शिविर आयोजित होने से दिव्यांजनो को एक ही जगह बिना भागदौड के सुविधायें मिल जाती है। उन्होने कहा कि दिव्यांगजनो के लिये शासन द्वारा जो भी योजनाये संचालित है, उसे पूरी पारदर्शिता व तत्परता के साथ उन तक पहुॅचाया जायेगा। साथ ही वे कैसे स्वालम्बी हो, इसके लिये कार्य किया जायेगा। उन्होने कहा कि आगे भी इस तरह के शिविर आयोजित किये जायेगें और कृत्रिम उपकरण से लेकर अन्य अनुमन्य सुविधाये उपलब्ध कराये जाने का कार्य किया जायेगा। उन्होने सीआरसी के कार्यो की सराहना करते हुए कहा कि शिविर में योगदान कर बौधिक व मानसिक रुप से दिव्यांगो का परीक्षण स्थानीय स्तर पर करने से उन्हे काफी सुविधा मिली है और परीक्षण के लिये अन्यत्र भागदौड नही करना पडा है। इस शिविर में 421 दिव्यांगजनो को कृत्रिम अंग दिया गया एवं 222 को मोटराईज्ड साइकिल हेतु चिन्हित किया गया है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने दिव्यांगजनो के सुविधा के लिये संचालित किरण हेल्पलाइन का भी विमोचन पोस्टर के माध्यम से किया। दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी मीनू सिंह सहित सीआरसी के अन्य पदाधिकारियों द्वारा जिलाधिकारी का स्वागत पुष्पगुच्छ प्रदान कर किया गया। जिलाधिकारी द्वारा परीक्षण हेतु स्टालो एवं पटलों का निरीक्षण किया गया एवं उन्हे सुचारु रुप से दिव्यांगजनो का परीक्षण किये जाने का निर्देश दिया।