प्रेमी के साथ मिलकर भाई ने बहन की बेरहमी से की हत्या
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया - गौरीबाजार-चौरीचौरा रेलवे लाइन के मध्य हरेरामपुर गांव की सीमा में मृत मिली लड़की की हत्या के संबंध में पुलिस के अनुसार लड़की के कई लोगों से संबंध था जिसकी जानकारी मृतक लड़की के भाई को भी मालूम हो गया था जिसके बाद से नाराज भाइयों ने उसके प्रेमी से मिलकर उसकी हत्या कर दी थी। मौके से हत्या में प्रयुक्त चाकू, मृतका के एक पैर का चप्पल व कपड़े बरामद हुए हैं। तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है।यह जानकारी पुलिस लाइन के मनोरंजन कक्ष मे पत्रकारों से बातचीत के दौरान पुलिस अधीक्षक डा0श्रीपति मिश्र ने दी। श्री मिश्र ने बताया कि 31 जनवरी की सुबह में गौरीबाजार-चौराचौरी रेलवे लाइन के मध्य हरेरामपुर गांव की सीमा में 19 वर्षीय लड़की का शव मिला था। उसकी पहचान हरेरामपुर गांव के मजनू की पुत्री रेशमा के रूप में हुई थी। परिजनों ने हत्या की आशंका जताई थी। पिता की तहरीर पर पुलिस ने सोमवार को एक नामजद सहित कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। श्री मिश्र ने बताया कि मंगलवार को एसओजी व गौरीबाजार की टीम ने नामजद अभियुक्त शिवम चौहान को गौरीबाजार रेलवे स्टेशन के बाहर से गिरफ्तार किया। पुलिस से आरोपी प्रेमी ने पूरी बात बताया कि वह रेशमा का प्रेमी था। मृतका के भाई अरमान अली ने उससे कहा कि उसकी बहन के संबंध अन्य लोगों से भी है। तुम उसे मिलने के लिए रेलवे पुलिया के पास बुलाओ। शिवम चौहान ने 30 जनवरी को उसको मिलने के लिए बुलाया जहाँ पर पहले से मौजूद रेशमा के भाई अरमान अली एवं चचेरे भाई सैफ अली ने शिवम चौहान के साथ उसका गला व मुंह दबाकर चाकू से गोद कर उसकी हत्या कर दी।अरमान अली और सैफ अली को पश्चिमी ढाला के पास से गिरफ्तार किया गया। उन्होंने भी शिवम चौहान के साथ मिलकर अपनी बहन की हत्या कबूल किया। फिर पुलिस ने तीनों अभियुक्तों की निशानदेही पर घटनास्थल से कुछ दूर गेहूं के खेत में छिपाकर रखे चाकू, मृतका के एक पैर का चप्पल व कपड़े बरामद किए गए। श्री मिश्र ने बताया कि मृतका के कई लोगों से संबंध थे। इस बात से खफा होकर ही भाइयों ने उसके प्रेमी के संग मिलकर हत्या कर दी। इस मामले में तीनों के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है।