बहराइच/नानपारा मे अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर छात्राओं ने जागरूकता रैली निकाली
शिवम सिंह पत्रकार तहसील नानपारा
नानपारा बहराइच नानपारा राहत जनता इंटर कॉलेज नानपारा बहराइच में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया इस अवसर पर महिलाओं के अधिकार बालिका शिक्षा तथा उनके जागरूकता के संबंध में विचार गोष्ठी की गई। विद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ दीनबंधु शुक्ला ने बताया कि आज महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरुषों के बराबर या उससे अधिक कार्य कर रही हैं, लेकिन अभी भी समाज में जो स्थान उन्हें मिलना चाहिए वह नहीं मिल पा रहा है । लैंगिक भेद अभी भी घर की चहारदीवारी के अंदर तथा चहारदीवारी के बाहर दिखाई देता है। सबको मिलकर इस भेदभाव को दूर करते हुए महिला और पुरुष को समान मानकर आचरण करना चाहिए। विद्यालय के प्रवक्ता अरुण प्रकाश चौधरी ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाए जाने के संबंध में विस्तृत जानकारी प्रदान किया। उन्होंने बताया कि 1908 में अमेरिका में महिलाओं ने अपने कार्य के बदले वेतन भुगतान के संबंध में पहली बार आवाज उठाया था और उसके बाद आगे चलकर इसे 1911 में यूरोप के देशों ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाना शुरू किया। 1975 में इसे आधिकारिक रूप में महिला दिवस मनाया जाना प्रारंभ किया गया। 2021 में दुनिया का 110 वां अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जा रहा है। इसके बाद विद्यालय की छात्राओं को लेकर जन जागरूकता पैदा करने के लिए नानपारा की सड़कों पर रैली निकाली गई ।इसमे विद्यालय के प्रधानाचार्य के साथ समस्त शिक्षक और विद्यालय की बड़ी संख्या में छात्राएं शामिल रहे। रैली के माध्यम से सामान्य जन को यह संदेश देने का प्रयास किया गया कि समाज में महिला और पुरुष को बराबरी का स्थान प्राप्त है । लैंगिक अस्तर पर किसी भी प्रकार का भेदभाव अनुचित और दुर्भाग्यपूर्ण है।