इलाज के नाम पर तांत्रिक ने नशीला पदार्थ खिलाकर किशोरी से किया दुष्कर्म।
जिला प्रभारी गोपाल पांडेय की रिपोर्ट बस्ती
तांत्रिक ने झाड़-फूंक के नाम पर कमरे में बंद कर नशीला पदार्थ खिलाकर किशोरी से दो दिन तक किया दुष्कर्म।पीड़िता की तहरीर पर गौर पुलिस ने दुष्कर्म सहित पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को कर लिया गिरफ्तार।बस्ती जनपद के गौर थाना क्षेत्र में झाड़-फूंक और भभूत देकर एक किशोरी के साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी तांत्रिक के विरुद्ध दुष्कर्म व पॉक्सो एक्ट की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया है। किशोरी ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसकी तबियत 22 मार्च की रात अचानक खराब हो गई थी। उसकी मां उसी रात उसे इलाज के लिए पड़ोस के गांव सेहरिया निवासी तांत्रिक सिपाही के घर ले गई। इलाज के नाम पर उसने नशीला पदार्थ पिला दिया। जिससे वह बेहोश हो गई। मौके का फायदा उठा उसने उसके साथ दुष्कर्म किया। जिससे वह लहुलुहान हो गई।तांत्रिक ने झाड़-फूंक के नाम पर कमरे में बंद कर नशीला पदार्थ खिलाकर किशोरी से दो दिन तक दुष्कर्म किया। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने दुष्कर्म सहित पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। गौर थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली पन्द्रह वर्षीय किशोरी ने पुलिस को तहरीर दी कि उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं रहती है। इस कारण 22 मार्च को उसकी मां सेहरिया गांव के रहने वाले तांत्रिक सिपाही के पास ले गई। तांत्रिक ने कहा कि दो दिन झाड़-फूंक के बाद ठीक हो जाएगी और एक कमरे में बंद कर दिया। लगातार दो दिन तक नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। तीसरे दिन किशोरी खून से लथपथ और बेहोशी की हालत में मिली तो उसकी मां घबरा उठी। उसने इसकी सूचना बभनान पुलिस चौकी को दी।पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़िता की हालत नाजुक देखते हुए उसे थाने ले गई। वहां से सीएचसी गौर पहुंचाया। सीओ हर्रैया शेषमणि उपाध्याय ने मौका मुआयना किया। पीड़िता की तहरीर पर आरोपी तांत्रिक सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।