समय से मानदेय न मिलने पर शिक्षा मित्रों ने मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा*
शिवम सिंह पत्रकार तहसील प्रभारी नानपारा बहराइच ।दस हजार रुपए के मामूली मानदेय पर बेसिक शिक्षा में शिक्षण कार्य कर रहे शिक्षा मित्रों को बजट होने के बावजूद भी मानदेय का भुगतान नहीं करते बेसिक शिक्षा के जिम्मेदार अधिकारी समय से मानदेय न मिलने पर मंगलवार को उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के प्रांतीय प्रवक्ता व जिलाध्यक्ष शिव श्याम मिश्र के निर्देशानुसार जिला मीडिया प्रभारी व जिला प्रवक्ता अनवारूल रहमान खान ने जिला अधिकारी कार्यालय पहुंचकर मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा। जिला मीडिया प्रभारी ने बताया कि यूपी की लोकप्रिय सरकार ने लगभग बीस दिन पहले प्रदेश के शिक्षा मित्रों के फ़रवरी मानदेय समस्त जनपद के जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में भेज दिया था लेकिन सहायक बित एवं लेखाधिकारी के लापरवाही के कारण आज तक मानदेय नहीं मिला होली जैसे महत्वपूर्ण त्यौहारो ने दरवाजे पर दस्तक दे दी है ऐसे में शिक्षा मित्रों की होली कैसे होगी जिला प्रवक्ता अनवारूल रहमान खान ने कहा कि यह पहली बार नहीं है मानदेय भुगतान में यहां के जिम्मेदार सहायक बित एवं लेखाधिकारी द्वारा तत्परता नहीं दिखाई जाती है वो बार बार बिकास क्षेत्रों से उपस्थित न आने की बात कहते रहते हैं जिला प्रवक्ता ने कहा कि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा भी इस समस्या के समाधान हेतू कोई औचित्य पूर्ण कदम न उठाए जाने से मानदेय का भुगतान खंड शिक्षा अधिकारी एवम सहायक बित एवं लेखाधिकारी की खींचातानी में फंसकर रह जाता है लेट लतीफ़ ही मानदेय मिलता है जिसके बिरोध में और समय से मानदेय दिलाने के लिए शिक्षा मित्रों ने मुख्यमंत्री व जिला अधिकारी को सम्बोधित ज्ञापन मंगलवार को नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा और समय से मानदेय दिलाने की मांग किया इस दौरान गिरीश जायसवाल , अनिल कुमार वर्मा , कमल कुमार मौर्य , सटीश यादव , ब्रजेश त्रिबेदी , अमरेन्द्र चौधरी , बीर भास्कर सहित दर्जनों शिक्षा मित्र उपस्थित रहे