केसीसी बनाने में बैंकों द्वारा अनाकानी पर होगी कार्रवाई-डीएम
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया -जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने बताया है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में पंजीकृत समस्त किसानों को किसान केडिट कार्ड दिये जाने का प्राविधान है। इसके लिये कृषकों की सुविधा के दृष्टिगत मोबाइल एप uppmkisankcc लांच किया गया है। कृषक इसके माध्यम से घर बैठे आनलाइन आवेदन कर सकते है। कृषक को इसके लिये upagriculture बेवसाइट या मोबाइल एप के माध्यम से केसीसी बनाने के लिये आवेदन सुगम तरीके से कर सकते है। जिलाधिकारी श्री निरंजन ने आवेदन के प्रक्रियाओं के विवरण में बताया कि कृषक का केसीसी आवेदन के लिए पीएम-किसान योजना में पंजीकरण होना अनिवार्य है। किसान को बैंक खाता व जमीन का विवरण भरना होगा। खसरे के अनुसार बोई गई फसलों का विवरण फीड करना होगा। पासपोर्ट साइज फोटो अपलोड करनी होगी। पूरा विवरण पोर्टल पर अपलोड करने के बाद मोबाइल पर ओटीपी आएगा, जिसे भरने के साथ ही डाटा अपलोड का काम पूरा हो जाएगा। तहसील कर्मियों को सात दिन के अंदर ऑनलाइन किसानों का डाटा सत्यापन करना होगा। सत्यापन के बाद आईएफएससी कोड के आधार पर डाटा संबंधित बैंक की शाखा में पहुंच जाएगा। बैंक को केसीसी देने की औपचारिकता एक पक्ष यानी 15 दिन में पूरी करनी होगी। जिलाधिकारी ने इसका व्यापक प्रचार प्रसार किये जाने का निर्देश कृषि विभाग को दिया है, जिससे कि कृषक अवगत हो और इस मोबाइल एप के माध्यम से अपना केसीसी बनाने का आवेदन सुगम तरीके से कर सके। उन्होने कृषि, राजस्व एवं बैकर्स सहित सभी जुडे विभागो को यह स्पष्ट निर्देश दिया है कि प्राप्त आवेदनो की सभी औपचारिकतायें समयबद्धता के साथ सुनिश्चित करेगें। इसमें किसी प्रकार की कोई शिथिलता कदापि न बरतेगें, अन्यथा कार्रवाई की जायेगी।