शहीद बृजेश कुमार सिंह पटेल का शव पहुंचा गांव। हुआ अंतिम संस्कार
सदर तहसील कृपा शंकर यादव की रिपोर्ट।
मोहम्मदाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम बैजलपुर निवासी गोरखा रेजीमेंट में नायक के पद पर कार्यरत बृजेश कुमार सिंह पटेल की बुधवार को दिल्ली के सेना अस्पताल में बीमारी के चलते मौत हो गई। युवा सैनिक के निधन से बैजलपुर क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई।बैजलपुर निवासी नायक के पद पर कार्यरत बृजेश सिंह पटेल को भारतीय थल सेना के जवानों द्वारा उनके गांव स्थित महादेवा मंदिर के बाहर मैदान में तिरंगे में लपेटकर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। इस अवसर पर भारतीय थल सेना के मेजर अभिषेक कुमार सिंह के नेतृत्व में सेना के जवानों ने पुष्प चक्र अर्पित कर गार्ड आफ आनर देकर अंतिम विदाई दी। मालूम हो कि दिवंगत नायक बृजेश कुमार सिंह पटेल के पिता भागेलु पटेल भारतीय थल सेना में कैप्टन रह चुके हैं। बृजेश पटेल के का और भाई ओंकार सिंह पटेल भी भारतीय सेना में कार्यरत है। पूरा परिवार सेना के प्रति समर्पित है। मात्र 30 वर्ष की आयु में दिवंगत नायक बृजेश कुमार सिंह पटेल का विवाह बलिया के बेल्थरा के निवासी ममता सिंह पटेल से हुआ था। दिवंगत नायक का 1 पुत्र कार्तिक पटेल है। स्थानीय प्रशासन की ओर से मोहम्मदाबाद थाना अध्यक्ष शेषनाथ सिंह और उनके सहयोगी द्वारा नायक बृजेश कुमार सिंह को सलामी देकर अंतिम विदाई दी गई। भारतीय सेना के जवान को अंतिम विदाई देने के लिए बैजलपुर, तिवारीपुर हरिहरपुर आज गांव से लोगों का जनसैलाब उमड़ पड़ा।