शब-ए-बारात मुस्लिम समुदायों ने मांगी बुजुर्गों के लिए दुआ
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
शब-ए-बारात:मस्जिदों में रातभर होगा इबादत का दौर, अल्लाह से मांगी जाएगी दुआ जिले भर में शब-ए-बारात का त्योहार अकीदत के साथ मनाया जा रहा है मुस्लिम धर्मावलंबी रातभर नमाज, तिलाबत, और दुआओं में मशगूल रहेंगे शाम होते ही जिलेभर के कब्रिस्तानों में मुस्लिमों ने फातिहा पढ़कर अपने पूर्वजों की मगफिरत के लिए अल्लाह से दुआ मांगी।नमाज के बाद जिले के कब्रिस्तानों में फातिहा पढ़ने का सिलसिला चलता रहा। इसके बाद रातभर मस्जिदों में नफली नमाज, कुरान पाक की लिताबत और गुनाहों से माफी के लिए रब से रो-रोकर दुआएं मांगा जा रहा है इस्लामिक क्लब रामनाथ देवरिया के अध्यक्ष मजहर अली ने बताया कि शब-ए-बारात पर्व पर में अकीदतमंद रात भर इबादत करते रहते है और अपने पूर्वजों और रिश्तेदारों की कब्रों पर पहुंचकर अपने पूर्वजों को इसाले सबाव के लिए फातेहा पढ़ते है महिलाये घरों में रात भर इबादत करती है अगले दिन मुस्लिम समाज के महिलाओं, बुजर्गों व बच्चों द्वारा रोजा रखा जाएगा। इस पर्व पर सभी मुस्लिम धर्मावलंबी रातभर मालिक की इबादत करते रहे। मुसलमानों का रमजान शरीफ से 15 दिन पूर्व मनाया जाने वाला अत्यन्त महत्वपूर्ण त्योहार है। , कमेटी के पदाधिकारी नफीस खान सादिक, चमन, विक्की, वारिस ताहिर सोलजर , निजामुद्दीन, इसराफील,इमरान, फारूख , सिद्दीक आदि लोगों ने शब-ए-बारात की व्यवस्थाओं में सहयोग देने पर जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन का आभार माना है।