बन्द होनी चाहिए अवैध शराब का संचलन व निष्कर्षण, अन्यथा होगी कठोरतम कार्यवाही-डीएम
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया- विकास भवन के गांधी सभागार में जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, आबकारी शराब अनुज्ञापियों की एक संयुक्त बैठक सम्पन्न हुई। इस दौरान अवैध शराब संचलन, निष्कर्षण पर प्रभावी नियंत्रण की अपेक्षा सभी से की गयी तथा इसके लिये अपनी भागीदारी निभाये जाने को कहा गया। यह भी कहा गया कि हर हाल में इन गतिविधियों पर प्रभावी अंकुश लगना चाहिये, अन्यथा ऐसे संलिप्त लोगो के विरुद्ध कठोरतम कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन की अध्यक्षता एवं पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र की उपस्थिति में आहूत इस बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी दशा में शराब की ओवर रेटिंग न हो, दुकाने समय से खुले व बन्द हो, यह सुनिश्चित होना चाहिये। सभी अनुज्ञापी दुकानो पर स्टाक रजिस्टर अद्यतन होना चाहिये। उन्होने आबकारी विभाग सहित सभी को सचेत करते हुए कहा कि शराब से जुडी ऐसी हर अवैध गतिविधि प्रत्येक दशा में बन्द होनी चाहिये, यदि ऐसा नही होता है तो आबकारी विभाग को प्रमुख रुप से दोषी माना जायेगा। उन्होने उप जिलाधिकारियों, क्षेत्राधिकारियों को अपनी पैनी नजर रखे जाने का निर्देश दिया। पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र ने कहा कि शराब के उठान एवं गन्तव्य तक पहुॅचने के अनुश्रवण की पूरी जिम्मेदारी आबकारी विभाग को होती है, इसलिये वे शराब के उठान आदि पर अपनी सत्त नजर रखें। उन्होने सभी अनुज्ञापी दुकानो पर सीसीटीवी कैमरा सही स्थिति में लगाये जाने का भी निर्देश देते हुए कहा कि कैमरे में हर आने जाने वाले का चेहरा साफ दिखाई देना चाहिये। ऐसा नही होने से सुरक्षा प्रभावित होता है तथा कैमरा लगाये जाने का उद्देश्य भी विफल हो जाता है। उन्होने कैमरा फुटेज अनवरत रखे जाने एवं स्टाक को नियमित रुप से देखते रहने को कहा। उन्होने अनुज्ञापियों से प्रशासन का सहयोग किये जाने की अपेक्षा की। साथ ही थाना प्रभारियों, क्षेत्राधिकारियों, उप जिलाधिकारियों को संयुक्त रुप में अवैध शराब निष्कर्षण पर प्रभावी रुप से प्रवर्तन किये जाने एवं अपनी सजग व सर्तक नजर ऐसी हर गतिविधि पर रखे जाने को कहा। बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व उमेश कुमार मंगला, सीआरओ अमृत लाल बिन्द, एडीएम प्रशासन कुवर पंकज, एएसपी राजेश सोनकर, एसडीएम सदर सोरभ सिंह, रुद्रपुर संजीव कुमार उपाध्याय, भाटपाररानी ध्रुव कुमार शुक्ला, ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट सुमित कुमार यादव, जिला आबकारी अधिकारी अश्विनी कुमार, आबकारी निरीक्षण गण व अनुज्ञापी व उनके प्रतिनिधि गण आदि उपस्थिति रहे।