किशोरी से बलात्कार के प्रयास का आरोपी बार्डर से गिरफ्तार*
शिवम से पत्रकार तहसील प्रभारी नानपारा
काठमांडू व बांके पुलिस की संयुक्त करवाई में हुई गिरफ्तारीनेपाल के बांके जिला पुलिस ने नेपालगंज वार्ड नंबर 4 के घोसीटोल के 20 वर्षीय जुनैद हलवाई को 9 वीं कक्षा में पढ़ने वाली लड़की से बलात्कार की कोशिश करने के आरोप मे गिरफ्तार किया है। घटना जनवरी माह की है। जब ये किशोरी एसईई की परीक्षा फॉर्म भरने के लिए स्कूल जा रही थी। बांके पुलिस अधीक्षक ओम बहादुर राना के अनुसार पुलिस मुख्यालय काठमांडू के डीएसपी निशांत श्रीवास्तव व बांके पुलिस के एस आई मणि लमिछाने की टीम ने फरार अपराधी जुनैद हलवाई को मंगलवार की नेपाली सीमा से गिरफ्तार किया है।फरवरी माह से फरार चल रहे की गिरफ्तारी के बाद सामाजिक संगठनों ने खुशी ज़ाहिर की है।पकड़े गये युवक पर आरोप है कि उसने 16 वर्षीय लड़की को नेपालगंज स्थित बसपार्क के एक होटल में चाकू दिखाकर उसके साथ बलात्कार करने की कोशिश की थी।पीड़िता की मां के मुताबिक घटना के समय इस युवक ने लड़की को मारा पीटा व उसे मारने के इरादे से रस्सी से गला दबाकर बेहोश कर दिया।पीड़िता की मां के मुताबिक जब उनकी बेटी को होश आया तो वह होटल के कमरे में चीखने लगी।स्थानीय लोगों की मदद से उसे उपचार के लिये भेरीअस्पताल ले जाया गया।उपचार के बाद से अब तक किशोरी को नेपालगंज के एक आश्रय गृह में रखा गया है।घटना की सूचना मिलते ही पीड़िता की मां 29 जनवरी को जिला पुलिस कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई थी। पीड़िता की मां ने कहा कि उसके मुंह, नाक, कान, गला,आंख व शरीर के अन्य हिस्सों में गंभीर चोट के निशान थे।पीड़िता की मां के अनुसार जुनेद ने उसकी बेटी के पास से मोबाइल फोन,आठ झुमके की एक सोने की बाली और चार तोले का एक चांदी का कंगन भी चुरा लिया था।इस घटना के खुलासे के लिए विभिन्न सामाजिक संगठनो ने नेपालगंज में कई जगह धरना प्रदर्शन किया था।इस घटना को लेकर नेपालगंज के बुद्धिजीवियों का एक प्रतिनिधिमंडल जिला पुलिस कार्यालय बांके में पुलिस अधीक्षक ओम बहादुर राना से मिलने गया था।इसके अतिरिक्त सामाजिक संगठनों ने दोषियों को गिरफ्तार करने के लिए जिला प्रशासन अधिकारी को भी एक ज्ञापन सौंपा था।घटना के विरोध में ज़िले के विभिन्न स्कूलों के छात्र छात्राओं व शिक्षकों ने घटना में संलिप्त युवक को गिरफ्तार करने व महिलाओं के खिलाफ हिंसा को रोकने हेतु नुक्कड़ नाटक कर विरोध प्रदर्शन किया था।