ग्रामीणों ने तहसील जमानत कराने के बाद मीडिया के सामने हाथ उठाकर प्रदर्शन, आखिर क्यों
कृपा शंकर यादव की रिपोर्ट।
गाजीपुर जखनियां तहसील के महार बुजुर्ग गांव के भटौली मौजे के ग्रामीणों ने तहसील जमानत कराने के बाद मीडिया के सामने हाथ उठाकर प्रदर्शन किया ।ग्रामीणो ने बताया कि 70 घरों के लोग अपना निजी जमीन देकर आने जाने का रास्ता बनाया था।जो सभी लोग इसी रास्ते से आते जाते रहे हैं ।लेकिन गांव के कुछ दबंग लोगों ने रास्ते को अवरुद्ध करने की लगातार लोगों पर दबाव बना रहे थे ।जिसमें भुड़कुड़ा पुलिस ने रविवार को शाम 30 लोगों को गिरफ्तार कर कोतवाली लाई साथ ही वहा मिट्टी का कार्य रहे थे ट्रैक्टर को भी सीज कर दिया। तथा 27 लोगों पर धारा 151 में चालान भी कर दिया। जिसमें महिला पुरुष भी थे। ग्रामीणों का कहना है कि प्रशासन बिना किसी पैमाइश बिना किसी नोटिस को दिए सभी ग्रामीणों को बदसूलकी के साथ कोतवाली थाने में लाकर भूखे प्यासे शाम तक बैठा ही रही ।तथा महिला और पुरुष के 27 लोगों को 151 में चालान कर दिया ।पुलिस के बदतमीजी और मनमानी को लेकर गांव में आक्रोश व्याप्त है। इस मौके पर निवर्तमान प्रधान प्रतिनिधि प्रकाश यादव, जय हिंद यादव, महेंद्र यादव राजेंद्र यादव राम अवतार यादव भंवर यादव मुसाफिर यादव विजयपाल यादव शेषनाथ यादव सुशीला देवी मंजू देवी पूनम देवी इंदु बाला देवी गणपति यादव हरदेव यादव कमलेश यादव संतराज यादव गिरधारी यादव बिरजू यादव विशाल यादव रुदल यादव सहित काफी लोग उपस्थित रहे।