सदर कोतवाली परिसर से एसओजी टीम की सरकारी गाड़ी गायब
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
गंभीर अपराधों का खुलासा करने वाली पुलिस की एसओजी टीम की सरकारी गाड़ी रविवार की रात वाहन चोरों ने कोतवाली परिसर से उड़ा लिया। इस घटना के बाद महकमे में हड़कंप मचा है। मामले में कोतवाली पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। पुलिस की सभी टीमें गाड़ी की तलाश में जुट गई है।यूपी के देवरिया जिले में वाहन लिफ्टरों ने पुलिस को खुलेआम चुनौती दी है। चोरों ने रविवार की रात कोतवाली परिसर में खड़ी एसओजी टीम की सरकारी बोलेरो गाड़ी चोरी कर ली। गाड़ी गायब होने के बाद एसओजी टीम ने तेजी से तलाश शुरू की। जब गाड़ी नहीं मिली तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस अधीक्षक को दी। एसपी के निर्देश पर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात वाहन लिफ्टरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गाड़ी की तलाश शुरू कर दी है।पुलिस महकमे की रीढ़ मानी जाती है एसओजी टीम गंभीर अपराधों के खुलासे में जब पुलिस की अन्य टीमें नही कर पाती हैं , तब उसका जिम्मा एसओजी टीम को ही सौंपा जाता है। एसओजी टीम ने भी कई गंभीर अपराधों का खुलासा कर पुलिस की साख बचाई है। मगर रविवार की रात वाहन लिफ्टर एसओजी टीम पर भी भारी पड़ गए।रविवार की रात एसओजी टीम के सदस्यों ने सरकारी गाड़ी सदर कोतवाली परिसर स्थित एसओजी कार्यालय के सामने खड़ी की थी। सुबह जब टीम के सदस्य ऑफिस पहुंचे तो गाड़ी वहां से गायब थी। टीम ने पहले अपने स्तर से गाड़ी का पता लगाना शुरू किया। जब गाड़ी नहीं मिली तो टीम प्रभारी घनश्याम सिंह ने इसकी जानकारी पुलिस अधीक्षक डॉ श्रीपति मिश्र को दी। एसपी के निर्देश पर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात वाहन लुटेरों के खिलाफ गाड़ी चोरी का मुकदमा दर्ज कर कोतवाली परिसर के अगल बगल स्थित सभी सीसीटीवी कैमरों की जांच शुरू कर दी है। मगर सीसीटीवी कैमरों से पुलिस को कोई खास सुराग नहीं मिल पाया है।