लावारिश घायल वृद्धा महिला की उपचार के दौरान मौत, समाजसेवी वीरेंद्र सिंह ने परिजनो से अस्पताल पहुंचने का किया अपील
कृपाशंकर यादव की रिपोर्ट।
गाजीपुर। जिला अस्पताल में कल देर रात्रि साढ़े ग्यारह बजे एक अज्ञात गंभीर रुप से घायल (माता) जी उम्र लगभग (80) वर्ष को 108 पुलिस द्वारा अस्पताल पहुँचाकर बिना बताए चले गए जिनके साथ कोई नही था तो मैं इमर्जेंसी ब्लॉक डॉ0 संजय जायसवाल जी को दिखाया गया और वार्ड व्‍वाय उपेंद्र पटेल की मदद से दवा, सुई, टाँका, मलहम एवं पट्टी कराकर सर्जिकल वार्ड में भर्ती करा दिया था।। माता श्री बोलने में बहुत ही असमर्थ थी लेकिन बहुत ही कोशिशो के बाद वो अपना नाम-सुरसतिया पत्नी-रामकृत बिन्द पता-(सकरा) थाना कोतवाली बताई थी। तो मैं हुसैनपुर गाँव के पत्रकार सोनू तिवारी को और (तीन) लोगों को इनके घर के बारे में पता लगाने के लिए फोन किया। रात्रि ज्यादा होने के कारण वो लोग पता नही लगा पाए और जिनकी अभी देर रात्रि डेढ़ बजे इलाज के दौरान मृत्यु हो गई थी शव वाहन कोरोना डेड बॉडी को उनके घर तक छोड़कर आने का इंतजार कर रहा था शव वाहन आ जाने पर माता जी के शव को मर्चरी में रखवाकर, इनके घर का पता लगाया जाएगा। अगर कोई इनको जानता या पहचानता हो तो कृपया इनके घर पर या थाना कोतवाली सूचित करें। काफी प्रयास के बाद इनके परिजनो को सूचना दे दी गयी है। ईश्वर माता जी की आत्मा को शान्ति प्रदान करें।