कोविड नियमों का पालन करते हुए घर मे करें प्रवास- महामण्डलेश्वर
कृपाशंकर यादव की रिपोर्ट।
गाजीपुर। वैश्विक महामारी कोविड कोरोना को लेकर सिद्धपीठ हथियाराम मठ के पीठाधीश्वर और जूना अखाड़े के वरिष्ठ महामंडलेश्वर स्वामी भवानीनन्दन यति जी महाराज ने कहा कि आगामी 1 मई से सिद्धपीठ के कपाट प्रातः 6:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक के लिए ही खुलेंगे। श्रद्धालु दर्शनार्थी इस दौरान कोरोना की गाइड लाइन का पालन करते हुए सिद्धपीठ स्थित वृद्धाम्बिका देवी (बुढ़िया माई) व सिद्धिदात्री देवी मंदिरों में दर्शन पूजन कर सकेंगे। विशेष भेंटवार्ता में महामंडलेश्वर स्वामी भवानीनंदन यति जी महाराज ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव ही इलाज है। ऐसे में कोविड के नियमों का पालन करना सबका कर्तव्य है। उन्होंने श्रद्धालुओं से आग्रह किया कि लोग अनावश्यक घरों से बाहर न निकले। बहुत आवश्यक होने पर ही बाहर निकलें । इस दौरान मास्क व उचित दूरी सहित सभी नियमों का पूरा पालन करें। सिद्धपीठ में दर्शन पूजन के बाबत उन्होंने कहाकि आगामी 1 मई से सुबह 6:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक दर्शन पूजन के दौरान एक साथ 5 श्रद्धालुओं को ही प्रवेश मिलेगा। इस दौरान भी सामाजिक दूरी व मास्क का प्रयोग अनिवार्य रहेगा।