लोग परेशान, गवई राजनीति में साइड इफेक्ट
कृपा शंकर यादव की रिपोर्ट। गाजीपुर ज़मानियां। क्षेत्र के खिजिरपुर गांव में जल जमाव की गम्भीर समस्याओं से ग्रामवासी आजिज आ चुके है। बार बार की गुहार भी काम नही आया। ग्राम पंचायत की चुनाव घोषणा के बाद तमाम नए पुराने चेहरे दो दो हांथ करने के लिये मैदान में उतर कर समस्या निदान कराने के लिये तरह तरह से ग्रामीण मतदाताओं को लुभाने के लिये कोई कसर नही छोड़ रहे है। परन्तु खिजिरपुर के पूर्व ग्राम प्रधान द्वारा 5 साल तक मुस्लिम बस्तियों में न ही जल जमाव की गम्भीर समस्या को दूर कराया और न ही नालियों व गलियों की साफ सफाई कराया। गांव की गलियों की नालियां गन्दगी से बजबजा रही है। इसके बाद भी विभागीय स्तर पर साफ सफाई व पानी निकास के लिये कार्यवाई नही हुई। पिछले दिनों जैसे ही मीडिया टीम खिजिरपुर गांव पहुंची। दर्जनभर ग्रामीण साफ सफाई व पानी निकास की गम्भीर समस्या को लेकर पूर्व ग्राम प्रधान पर आरोप लगाया और कहा कि मुस्लिम बस्तियों में 5 साल में एक बार भी झाडू नही लगाई गई। साजिद खान,जियाउद्दीन खान, बदरे आलम खान, जलालुद्दीन खन, जब्बार खान,मजले हक, तुफैल खान, शेरा खान आदि लोगों ने जल जमाव स्थान पर खड़ा होकर विरोध जताया और कहा कि इस बार ऐसे प्रत्याशी को वोट दिया जाएगा। जो खिजिरपुर गांव की तमाम समस्याओं से छुटकारा दिलाने में सक्षम हो ग्रामीणों ने रोष जताया और कहा कि पूर्व ग्राम प्रधान 5 वर्ष तक गांव के विकास के लिये मिली धनराशि को हजम कर लिया। अब ऐसे किसी भी प्रत्याशी को वोट नही करेंगे। इस बार सोच समझ कर समस्या निदान कराने वाले व हमेशा पात्रों को उनका हक दिलाने वाले को वोट देकर विजयी बनाया जाएगा।