निरीक्षण में आई खामियों को लेकर डीएम ने संबंधित विभागो के साथ की बैठक ,दिए आवश्यक निर्देश
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया -जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन द्वारा कोविड कंटेनमेंट जोन गरूणपार एवं साकेत नगर निकट चकियवां ढाला के औचक निरीक्षण में प्रकाश में आया कि सैम्पलिंग व कान्टेक्ट ट्रेसिंग के लिये लगायी गयी टीम में शिथिलता व आपसी समन्वय का अभाव है, जिसे गम्भीरता से लेते हुए तत्काल स्वास्थ्य विभाग, बाल विकास विभाग एवं नगर पालिका के अधिकारियों की बैठक इन्टीग्रेटेड कोविड कमाण्ड कन्ट्रोल रूम में आहूत की गयी एवं इस संबंध में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के दृष्टिगत विकास खण्ड सदर एवं नगर पालिका परिषद शहर के अन्तर्गत आने वाले कंटेनमेंट जोन में विशेष अभियान चला कर सर्वे एवं सैम्पलिंग का कार्य किये जाने की आवश्यकता है। उक्त के दृष्टिगत कान्टेक्ट ट्रेसिंग हेतु विकास खण्ड सदर के ग्रामीण क्षेत्र एवं नगर पालिका देवरिया में कंटेनमेंट जोन के क्षेत्र की आशा, ए0एन0एम0, आंगनबाड़ी कार्यकत्री तथा सफाईकर्मियों की संयुक्त टीम गठित की जाती है, नगर पालिका क्षेत्र में सम्बन्धित सभासद उक्त टीम के कार्यों का पर्यवेक्षण करेगें। शहरी क्षेत्र में चिन्हित कन्टेनमेंट जोन में प्रस्थान हेतु चिन्हित टीम प्रातः 08ः00 बजे शहरी परिक्षेत्र हेतु नगर पालिका कार्यालय में तथा सदर विकास खण्ड क्षेत्र हेतु विकास खण्ड परिसर में उपस्थित होगे। प्रत्येक सदस्य को कन्टेनमंेंट जोन में जाने से पूर्व मास्क व सेनेटाईजर आदि स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रदान किया जायेगा। टीम को एक पूर्व निर्धारित प्रश्नपत्र दिया गया जायेगा जिसमें कोविड-19 के संक्रमित व्यक्तियों से सम्पर्क में आने वाले लोगो के स्वास्थ्य निगरानी सम्बन्धी प्रश्न होगें। कन्टेनमेंट जोन में दिल्ली/नोएडा/गाजियाबाद/महाराष्ट्र/गुजरात से हाल में ही यात्रा करके आने वाले व्यक्तियों को संदिग्ध श्रेणी में रखते हुए उनको भी सूचीबद्ध कर प्राथमिकता के क्रम में इनका एण्टीजन/आर.टी.पी.सी.आर0 टेस्ट आवश्यकतानुसार किया जायेगा। लाईन लिस्टिंग करने के पश्चात चिन्हित व्यक्तियों का प्राथमिकता के आधार पर एण्टीजन टेस्ट कराया जायेगा। चिन्हित व्यक्तियों में से जिनका एण्टीजन रिर्पोट निगेटिव प्राप्त होता है उनके सैम्पल को आर.टी.पी.सी.आर. जांच हेतु भेजा जायेगा। टीमों की माॅनिटरिंग के लिये बाल विकास परियोजना अधिकारी सदर एवं शहर तथा डी0पी0एम0 राजेश कुमार एवं पूनम प्रातः 09ः00 बजे से सायं 07ः00 बजे तक कन्ट्रोल रूप में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहते हुए लगातार टीमों से समन्वय स्थापित करेगें एवं तत्सम्बन्धी रिपोर्ट सायं 06ः00 बजे आहुत बैठक में जिलाधिकारी के सम्मुख प्रस्तुत करेगें। इस आदेश का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किए जाने के निर्देश के साथ ही जिलाधिकारी ने आगाह किया है कि इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नही होगी।