डीएम ने मतदान कार्मिकों के प्रशिक्षण कार्य का लिया जायजा
देवरिया -जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन आज से प्रारंभ चार दिवसीय मतदान कार्मिकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम का निरीक्षण टाउन हॉल एवं विकास भवन परिसर में पहुंच कर सभागार सहित एक एक कक्ष के प्रशिक्षण कार्यक्रम का जायजा लिया तथा कलेक्ट्रेट में जिला पंचायत सदस्यों के नामांकन कक्ष का भी निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिए। जिलाधिकारी श्री निरंजन प्रशिक्षण को संबोधित करते हुए कहा कि सभी पीठासीन अधिकारी एवं मतदान अधिकारी टीम भावना के साथ कार्य करेंगे। निर्वाचन की जो भी प्रक्रिया है उसे त्रुटि रहित संपन्न कराएंगे। इस कार्य को संपन्न कराने में प्रशिक्षण में दी गई जानकारी ही उनके काम आएगी, इसलिए उन्हे जो भी जानकारी दी जा रही है उसे भली-भांति ग्रहण कर ले। उन्होंने यह भी कहा कि जो हैंड आउट दिया गया है, उसे अच्छी तरह पढ़ ले, समझ ले और हमेशा अपने साथ रखेंगे, ताकि किसी भी प्रकार की कठिनाई आने में वह उपयोगी हो सके। उन्होंने यह भी कहा कि निर्वाचन की प्रक्रिया में त्रुटि की कोई गुंजाइश नहीं है, जवाबदेही तय होती है और उस पर कार्यवाही भी होती है, इसलिए इस महत्वपूर्ण एवं संवेदनशील चुनाव को संपन्न कराने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आप सभी के कंधे पर है। पूरी सजगता तत्परता से निभाएंगे और निष्पक्ष शांतिपूर्ण पारदर्शी चुनाव को संपन्न कराएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि मतदान प्रक्रिया के महत्वपूर्ण स्थलों पर भी आप अपने जिम्मेदारियों को जाने और तदनअनुसार उसका अमल करें। उन्होंने कहा कि मतदान पार्टी रवाना स्थल सहित सभी कार्य स्थलो पर अपनी जिम्मेदारी का परिचय देंगे। लापरवाही किसी भी दशा में किसी भी कार्य बिंदु पर क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने कहा कि पार्टी रवानगी स्थलो पर ही स्टेशनरी का मिलान अवश्य ही कर लेंगे। बूथों पर आवश्यक प्रबंध मानक अनुसार सुनिश्चित कराएंगे तथा मतपेटिकाओ को टीम भावना के साथ जमा कराने की कार्रवाई को पूर्ण कराएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि किसी भी लापरवाही पर कठोरतम कार्यवाही होगी, बर्खास्तगी भी की जा सकती है। उन्होंने कहा कि मोबाइल बैटरी डिस्चार्ज न हो, इसके लिए अतिरिक्त बैकअप की भी व्यवस्था रखेंगे। साथ ही जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटो व अपनी सभी टीम के साथ दूरभाष नंबर रखते हुए प्रभावी कम्युनिकेशन रखेंगे। उन्होंने यह भी कहा की प्रशिक्षण में जो भी अनुपस्थित रहेंगे, उन पर कठोर दंडात्मक कार्यवाही होगी। मुख्य विकास अधिकारी शरणप्पा जी एन ने कहा कि प्रशिक्षण में दी गई जानकारियों का फीडबैक लेने के लिए 30 प्रश्नों की प्रश्नोतरी भी कार्मिकों को दी जाएगी, जिससे यह मालूम हो सके कि किस कार्मिक ने कितने मनोयोग से प्रशिक्षण को लिया गया है, इसमें कम अंक पाने वाले की लापरवाही मानी जाएगी और उनकी सेवा पुस्तिका में एंट्री कर दी जाएगी। प्रशिक्षण में स्टेशनरी मिलान से लेकर मतपेटिका को खोलने व उसे सील करने सहित विभिन्न बिंदुओं पर जानकारी दी गई। प्रशिक्षण में निशेष गुप्ता द्वारा मुख्य रूप से पंचायत चुनाव के संबंध में प्रक्रियाओं से अवगत कराया गया। इस दौरान जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय, बीएसए संतोष राय, डीएसटीओ मनोज श्रीवास्तव,डीपीआरओ आनंद प्रकाश, पीडी संजय पांडेय सहित अन्य संबंधित अधिकारी कर्मचारी गण उपस्थित रहे। इसके उपरांत जिलाधिकारी कलक्ट्रेट में अपर जिलाधिकारी प्रशासन के कार्यकक्ष में जिला पंचायत सदस्यों के नामांकन कक्ष का निरीक्षण किया व तैयारियों का जायजा लिया तथा उसे पूर्ण करने के साथ ही आवश्यक सभी प्रबंधों को पूरा कराए जाने का निर्देश अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुंवर पंकज को दिया।