कोविड 19 जांच को घर-घर पहुंचेगी टीम, तैयार होगा ब्यौरा*
कृपाशंकर यादव की रिपोर्ट। गाजी
पुर। कोरोना संक्रमण से ग्रामीण इलाकों को बचाने के लिए जिला प्रशासन ने ठोस कदम उठाना शुरु कर दिया है। घर-घर जाकर टीम जहां प्रत्येक व्यक्ति की कोविड-19 जांच करेगी। वहीं सर्दी, जुकाम एवं बुखार के लक्षण वालों को भी मेडिकल किट मुहैया कराएगी। स्वास्थ्य विभाग ने 85 टीम गठित की है, जो जांच के साथ दवा उपलब्ध कराने के साथ ब्यौरा तैयार कर उच्चाधिकारियों को भी उपलब्ध कराएगी। प्रत्येक गांव में रहने वाले लोगों की जांच हो सके, इसके लिए 85 टीम गठित की गई है। एक टीम में शामिल तीन स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा जहां ग्रामीणों की जांच की जाएगी। वहीं गंभीर लक्षण पाए जाने पर टीम इसकी सूचना अपने नोडल अधिकारी को देगी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ऐसे मरीजों को उपचार के लिए कोविड अस्पताल में लाकर भर्ती करेगी। जबकि कम लक्षण वाले मरीजों को मेडिकल किट उपलब्ध कराया जाएगा, जिससे होम आइसोलेट रहने के साथ वे दवा का सेवन करने के साथ जारी निर्देशों का पालन कर सकें। वहीं जिन ग्रामीणों द्वारा जांच नहीं कराई जाएगी और उनके अंदर हल्का लक्षण भी दिखाई देगा तो उन्हें टीम दवा उपलब्ध कराने का काम करेगी, जिससे उन्हें परेशानी का सामना न करना पड़े। सीएमओ डा. जीसी मौर्या ने बताया कि जांच और मेडिकल टीम के लिए 85 टीम गठित की गई है। इनके द्वारा घर-घर पहुंचकर जहां कोविड-19 की जांच की जाएगी। वहीं दवा उपलब्ध कराने का काम किया जाएगा।