नोेेडल अधिकारी ने की वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से कोविड -19के कार्यो की समीक्षा
देवरिया -शासन द्वारा नामित वरिष्ठ नोेेडल अधिकारी रणवीर प्रसाद ने सोमवार सायं जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन सहित स्वास्थ्य, विकास एवं जुडे विभागो के अधिकारियों के साथ गूगल मीट के माध्यम से कोविड प्रबंधन कार्यो की समीक्षा की गयी तथा आवश्यक निर्देश दिये गये। नोडल अधिकारी श्री प्रसाद ने एक-एक प्रभारी चिकित्साधिकारियों से वार्ता कर उनके क्षेत्रो में कन्टेनमेण्ट जोन, पाजिटिव, होम आइसोलेशन आदि की विस्तृत जानकारी किये। उन्होने निर्देश दिया कि निगरानी समिति को सक्रिय करते हुए रैपिड सर्वे कराया जाये एवं अनिवार्य रुप से दवाओं की वितरण सुनिश्चित करायी जाये। सर्वे में यह विशेष रुप से सुनिश्चित किया जाये कि कितने पाजिटिव, कितने प्रिज्मपटिव, कितने को आक्सीजन की आवश्यकता है। यह सूचना दो दिन में तैयार कर उन्होने उपलब्ध कराये जाने का भी निर्देश दिया। उन्होने कहा कि घर-घर निगरानी समितियों को इस सर्वे कार्य को किया जाना है। इस कार्यो के सम्पादन में खंड विकास अधिकारियों एवं विकास विभाग के अधिकारियों की भी भागीदारी ली जाये। उन्होने घर घर निगरानी कर इस कार्य को किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि सभी सीएचसी में मिनी कन्ट्रोल रुम स्थापित किया जाये। कार्यो को औपचारिकता के रुप में नही, बल्कि पूरी वास्तविकता व प्रमाणीकता के साथ सुनिश्चित किया जाये। श्री प्रसाद ने कन्टेनमेण्ट जोन को प्रभावी रखे जाने का निर्देश दिया। साथ ही कन्टेक्ट ट्रैकिंग किये जाने पर विशेष रुप से बल दिया। उन्होने कहा कि सैनिटाईजेशन, साफ सुाई आदि को भी सक्रियता से सुनिश्चित की जाये। घर घर निगरानी में आशा कार्य कर्तियों आदि जुडे विभागो का भी सक्रियता ली जाये। जिनगरानी समितियों द्वारा जितने प्रभावी रुप से कार्य किये जायेगें उतना ही कोविड प्रबंधन में सुगमता होगी। सर्वे में जिन मरीजों का आक्सीजन लेबल कम हो उन्हे होम आइसोलेशन में आक्सीजन उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जाये अथवा उन्हे हास्पिटलाइज कराया जाये। सभी संदिग्धों की सूची बनाये, उनकी जांच अवश्य ही करायें। जिलाधिकारी ने वर्चुअल मीटिंग के दौरान जुडे सभी अधिकारियों को नोडल अधिकारी द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन करते हुए कार्यो को पूरी निष्ठा व तत्परता के साथ निस्पादित किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि जिस टीम व अधिकारी को जो दायित्व सौपा गया है, उसे पूरे मनायोग से सुनिश्चित करेगें। उनके द्वारा एक एक कार्य बिन्दुओं की विस्तृत जानकारी भी दी गयी। उन्होने यह भी बताया कि कोविड प्रबंधन को प्रभावी करते हुए सभी न्याय पंचायतो में सेक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती की गयी है।इस वर्चुअल मीटिंग में सीडीओ शिव शरणप्पा जी एन, सीएमओ डा आलोक पाण्डेय, प्रभारी चिकित्साधिकारी गण व अन्य संबंधित अधिकारी गण जुडे रहे।