प्रधान पद के प्रत्याशी की मौत के बाद स्थागित चुनाव के लिए पुरैनारघुनाथपुर व मोतीपुर में पुनः 9 मई को होगा मतदान*
बिछिया बहराइच से अभयजीत प्रजापति की रिपोर्ट
मिहींपुरवा(बहराइच)-मिहींपुरवा विकास खण्ड़ में नामांकन के बाद दो प्रधान पद के प्रत्याशियों‌ की मौत हो गयी थी। जिसमे पुरैनारघुनाथपुर के प्रत्याशी की अकस्मिक मौत नामाकंन के बाद हो गयी थी वही ग्रामसभा मोतीपुर के प्रत्याशी की अकस्मिक मौत चुनाव चिन्ह आवंटन के बाद हो गयी थी। प्रधान पद के प्रत्याशियों की मौत के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने चुनाव को स्थगित कर दिया था। दोनो ग्राम पंचायतों में पंचायत चुनाव को‌ संपन्न कराने के लिए चुनाव आयोग द्वारा 9 मई की नई तिथि घोषित की गयी थी जिसके लिए पुनः 30 अप्रैल को नामांकन करवाया गया चुनाव चिन्ह को लेकर कोई फेरबदल नहीं हुआ है चूंकि पुरैनारघुनाथपुर में प्रत्याशी की पत्नी का भी नामांकन करवाया गया था इसलिए मृतक प्रत्याशी का पर्चा खारिज कर दिया गया था मृतक प्रत्याशी की पत्नी के साथ पूर्व प्रत्याशी पहले से आवंटित चुनाव चिन्ह के साथ चुनावी मैदान में हैं। दोनों ग्राम पंचायतों में सकुशल चुनाव संपन्न कराने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग एवं प्रशासन ने अपनी कमर कस ली है, चूंकि ग्रामसभा मोतीपुर को संवेदनशील श्रेणी में रखा गया है इसलिए चुनाव में किसी भी गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद नजर आ रहा है। पोलिंग बूथ से लेकर आवागमन मार्ग तक प्रशासन द्वारा चाकचौबंद व्यवस्था की गयी है ताकि चुनाव सकुशल संपन्न करवाया जा सके।