इलाज के दौरान मौत
कृपाशंकर यादव की रिपोर्ट।
गाजीपुर। पंचायत चुनाव से ठीक पहले सादात के गौरा गांव में महावीर राम 28 को गोली मार दी गई थी। गोली से जख्मी महावीर का उपचार वाराणसी के बीएचयू ट्रामा सेंटर में चल रहा था। उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। वहीं मृतक महावीर की मां धनपति देवी गांव के ग्राम प्रधान पद पर निर्वाचित हुई हैं। इस प्रकरण में पहले से ही पूर्व प्रधान मनोज सिंह व दो अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज है। मालूम हो कि गौरा गांव में महावीर राम अपने समर्थकों से मिलकर आ रहे थे। रास्ते में पहले से घात लगाये हमलावरों ने हमला बोल दिया था। ​इसी बीच उनको गोली मार दी गई। इसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा भड़क उठा था। पूर्व प्रधान मनोज सिंह के उपर गोली मारने का आरोप लगाते हुए उनके घर में आगजनी व तोड़फोड़ की गई। घर के दरवाजे पर खड़ी कार व ट्रैक्टर को आग के हवाले कर दिया गया था। मनोज सिंह घर के पिछले दरवाजे से परिवार संग भागकर किसी तरह जान बचाने में सफल रहे।