डीएम ने की जल जीवन मिशन के कार्य प्रगतियों की समीक्षा
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया -गूगल एप के माध्यम से जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने जल जीवन मिशन ‘‘हर घर नल से जल’’ योजना की समीक्षा की गयी। इस दौरान उन्होने अवशेष कार्य परियोजनाओं के लिये भूमि चिन्हांकन तथा डीपीआर सभी ग्राम पंचायतों का तैयार करा कर उसे शीघ्रता के साथ अपलोड किये जाने का निर्देश दिया। कहा गया कि यह योजना आधारभूत सुविधाओं के दृष्टिगत काफी महत्वपूर्ण है। इसमें किसी भी प्रकार का विलम्ब न हो, यह सभी जुडे विभाग व कार्यदायी संस्थायें सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी श्री निरंजन द्वारा की गयी समीक्षा में अब तक के भूमि चिन्हांकन प्रगति पर सन्तोष व्यक्त किया गया, परन्तु डीपीआर की कम प्रगति पर असन्तोष जताते हुए इस कार्य में और शीघ्रता लाये जाने का निर्देश देते हुए शत प्रतिशत डीपीआर तैयार किये जाने व उसे अपलोड किये जाने को कहा गया। समीक्षा में पाया गया कि 1131 राजस्व ग्रामों में पानी की टंकी इस योजना के तहत प्रथम चरण में बनायी जानी है, जिसके सापेक्ष 811 ग्रामों में भूमि का चिन्हांकन कर लिया गया है। शेष कार्य परियोजनाओं के लिये भूमि चिन्हांकन का कार्य चल रहा है तथा 941 में सर्वेक्षण कार्य पाईप लाइन डालने के लिये किये जा चुके है। अब तक 150 ग्राम पंचायतो का डीपीआर तैयार कर लिया गया है। जिलाधिकारी ने अवशेष भूमि चिन्हांकन, सर्वे कार्य एवं डीपीआर तैयार किये जाने के कार्यो को प्राथमिकता के साथ शीघ्र पूर्ण किये जाने का निर्देश संबंधित विभागो को दिया है। इस समीक्षा में सीडीओ शिव शरणप्पा जीएन, अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुवर पंकज, सभी उप जिलाधिकारी गण, अधिशासी अभियंता जल निगम प्रदीप चैरसिया, सहायक अभियंता एवं जूनियर इंजीनियर एवं कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि गण आदि प्रमुख रुप से उपस्थित रहे।