गेहूं बेचने के लिए क्रय केन्द्र पर किसानों की लग रही लंबी लाइन
सुभाष सिंह की रिपोर्ट
जमानियां। विपणन शाखा केंद्र पर गेहूं बेचने के लिए किसानों की लंबी लाइन लग रही है। जिससे किसान परेशान है और व्यवस्था को कोसते नजर आ रहे है। बरूईन गांव के रहने वाले आनंद तिवारी का कहना है कि बिक्री के पंजीकरण के बाद ऑनलाइन टोकन नहीं मिल पा रहा है। जिससे गेहूं बेचने में परेशानी हो रही है। केंद्र के बाहर किसान ट्रैक्टर में गेहूं ले कर अपनी बारी का इंतराज कर रहे है। केन्द्र पर 300 कुंटल से अधिक का कांटा नहीं किया जा रहा है। जिससे दिन पर दिन परेशानी बढ़ती जा रही है। बारिश से अनाज खराब होने की आशंका भी बढ़ गयी है। वही किसान पिन्टू सिंह ने बताया कि खुले बाजार में गेहूं का रेट कम होने से अधिकतर लोग केंद्र पर आश्रित हो गये है। वही केंद्र पर कांटा कम कर देने से किसानों कि परेशानी बढ़ गयी है और गेहूं बेचने के लिए कई दिन इंतजार करना पड़ रहा है। बारिश के समय गेहूं को संभाल कर रखना मुश्किल हो गया है। जिससे नुकसान होने का अंदेशा बढ़ गया है। क्षेत्रीय विपणन अधिकारी शैलेश यादव ने बताया कि एक कांटे से खरीद की जा रही है। जिससे दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है और लंबी लाइन लग गयी है। पहले दो कांटे चलते थे। जिससे खरीद करने में आसानी हो रही थी। पुनः दुसरा कांटा चालू करने के लिए पत्र भेजा गया है। स्वीकृति प्राप्त होते ही किसानों की समस्या दूर हो जाएगी।