कोरोना काल में भी खेमादेई राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय पर लटक रहा ताला,कर्मचारी एवं दवा नदारत
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
लार-देवरिया:-कोराना की महामारी के बीच आयुर्वेद हास्पिटल के कर्मचारी घर बैठकर आराम फरमा रहें हैं। जबकि एलोपैथ के हर कर्मचारी अपना जान जोखिम में डालकर दिन-रात एक करके लगा हुआ है।खेमादेई राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय में तीन दिन से लटका है ताला।कर्मचारी गायब और आयुष कोरोना किट के मरीज लगा रहें है हास्पिटल का चक्कर।ऐसा ही वाकया आज रमेश यादव के साथ हुआ जो कुछ दिन पहले कोरोना से पीड़ित थे और समाचार पत्र में प्रकाशित आयुर्वेदिक किट जिसमें आयुष क्वाथ,शमसनी वटी,आयुष-64,अणु तेल और वासावलेह इत्यादि के द्वारा स्वास्थ्य लाभ लेने के लिए खेमादेई के राजकीय आयुर्वेदिक हास्पिटल पर शनिवार सुबह 10 बजे गये जहाँ ताला लटक रहा था।आस पास के लोगों से उन्होनें पूछा तो पता चला कि यहाँ तीन दिन से ताला लटक रहा है।उन्होंनें इसकी शिकायत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर की है जिससे भविष्य में कम से कम मरीजों को इस महामारी में बेहतर सुविधा उपलब्ध हो सकें।