क्षय रोगी कोरोना से रहें सावधान, बीमार होने का है खतरा*
- कम होती है रोग प्रतिरोधक क्षमता, ऐसे में हो सकते हैं आसानी से बीमार - कोविड गाइडलाइन का करें पालन, बरतें पूरी तरह से सावधानी *संतकबीरनगर, 15 मई 2021।* कोविड का खतरा सामान्य रोगियों की अपेक्षा क्षय रोगियों को ज्यादा है। ऐसे में उन्हें विशेष सावधानी की आवश्यकता है। उनकी कम प्रतिरोधक क्षमता के चलते वह कोरोना से आसानी से बीमार हो सकते हैं। ऐसे में क्षय रोगी कोविड गाइडलाइन का पूरी तरह से अनुपालन करें तथा अतिरिक्त सतर्कता बरतें। फेफड़ों पर असर करने वाला कोरोना उनको बीमार बना सकता है। यह जानकारी देते हुए जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. एस डी ओझा ने बताया कि कोविड की दूसरी लहर में भी यह वायरस कम प्रतिरोधक क्षमता वालों पर हमला कर रहा है। शरीर की इम्यूनिटी (रोग प्रतिरोधक क्षमता) अगर कम है तो कोरोना का वायरस ऐसे लोगों को आसानी से बीमार बना सकता है। इसलिए जरूरी है कि टीबी के मरीज घर में ही रहें। बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकले। मास्क लगाएं और शारीरिक दूरी का पालन करें। टीबी का मरीज एक बार खांसने पर लगभग 30 हजार टीबी बैक्टीरिया हवा में छोड़ता है। ऐसे में अगर उसको कोरोना हो गया तो वह छींककर और खांसकर कोरोना को बड़े स्तर पर फैला सकता है। वह कोरोना सेबीमार होने के साथ ही कोरोना का वाहक भी बन सकता है। ऐसे में क्षय रोगी मास्क का प्रयोग अवश्य करें, इससे वह खुद तो सुरक्षित रहेंगे ही अपनों को भी सुरक्षित कर सकेंगे। *नजदीकी टीबी यूनिट से पहुंचा रहे हैं दवाएं* क्षय रोग कार्यक्रम के जिला समन्वयक अमित आनन्द ने बताया कि जनपद में तकरीबन 1100 मरीजों का उपचार चल रहा है। टीबी के मरीजों की रोग प्रतिरोधक क्षमता पहले से कम होती है। इसलिए ऐसे समय में टीबी मरीज को घर से बाहर न निकलने के दिशा - निर्देश के साथ ही साथ मास्क का प्रयोग करने के दिशा -निर्देश दिए जा रहे हैं । जनपद में समस्त एमडीआर टीबी के मरीजों को फोन से संपर्क किया जा रहा है और दवा आदि न होने पर उनको दवा भी नजदीकी टीबी यूनिट से पहुंचाई जा रही है। टीबी के मरीजों की कोरोना जांच भी कराई जा रही है। *मास्क पहनने में बरतें यह सावधानी* जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. एस डी ओझा ने बताया कि मास्क इस तरह पहने की नाक और मुंह ढके रहे।इस्तेमाल करने के बाद बाहर की तरफ से न छुएं ।सर्जिकल मास्क एक बार से ज्यादा प्रयोग ना करें ।कपड़े के मास्क को अच्छी तरह धोने के बाद ही इस्तेमाल करें ।मास्क को कभी उल्टा इस्तेमाल ना करें ।