ईद को लेकर पुलिस लाइंस में मुस्लिम धर्मगुरुओं के साथ डीएम एवं एसपी ने की बैठक
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया-ईद पर्व को शांति और सद्भाव के साथ कोविड-19 के प्रोटोकाल और कोराना कर्फ्यू की गाइडलाइन का पालन कराने के लिए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन, पुलिस अधीक्षक डॉ. श्रीपति मिश्र ने पुलिस लाइंस में मुस्लिम धर्मगुरुओं एवं विशिष्टजनों के साथ बैठक की। इसमें संक्रमण को फैलने में रोकने के लिए सभी से सहयोग करने को कहा गया। धर्मगुरुओं ने पर्व को दिशा निर्देशों के साथ मनाए जाने को आश्वस्त किया।बुधवार को डीएम ने शांति समिति की बैठक में कहा कि धर्मगुरु समाज के अगुआ है। लोगों को इस पर्व को संयम के साथ मनाए जाने लिए प्रेरित करें। पर्व को कोविड प्रोटोकाल एवं कोरोना कर्फ्यू के अनुरूप मनाया जाए। भीड़ न हो इसका विशेष ध्यान रखना होगा। नमाज घरों में अपने परिवार के सदस्य के साथ अदा करें। शुभकामनाएं एवं बधाइयां अपने शुभचिंतकों को फोन एवं वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से दें और जलसे न आयोजित करें। गले मिलने व हाथ मिलाने से परहेज करें। उन्होंने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने का प्रयास किया जा रह है। बीमारी को छिपाए नहीं, लक्षण आते ही जांच कराएं। घर-घर दवा पहुंचाने का भी कार्य हो रहा है। दवाओं का सेवन करें। एसपी ने कहा कि त्योहार को अपने घरों में रहकर मनाएं। यह पर्व कोविड महामारी के बीच मनाया जाना है। इसलिए निर्धारित प्रोटोकाल कोरोना पालन करना आवश्यक है। मस्जिद में पांच से अधिक व्यक्ति नमाज नही अदा करेंगे। घरों में ही परिवार के साथ नमाज करेंगे। अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुंवर पंकज ने विस्तारपूर्वक जानकारी दी। बैठक में एसडीएम सदर सौरभ सिंह, प्रभारी एएसपी व क्षेत्राधिकारी श्रीयश त्रिपाठी, बिस्मिल्लाह लारी आदि मौजूद रहे। वहीं, दूसरी तरफ अंजुमन इस्लामिया के सदर मो. जलालद्दीन खान ने लोगों से कहा है कि ईद के दिन गले मिलने और हाथ मिलाने से बचें। ईदगाह की जगह घर पर ही नमाज अदा करें। बैठक में राशिद खान, आफताब, इजहारूल, हाजी बदरूज्जमा और सफक मौजूद रहे।