सबसे महंगे चुनाव की ओर मुहम्मदाबाद की प्रमुखी
जिला प्रभारी राजीव कुमार पांडेय की रिपोर्ट।
गाजीपुर। मंडी सजी हुई है।बोली लगाई जा रही है।नीलामी की अंतिम तारीख तय नहीं है।जमानत राशि इतनी बढ़ती जा रही है कि अब यह एक पक्ष को भागने का मौका भी नहीं दे रही है। अजब हाल हो चला है मुहम्मदाबाद के ब्लाक प्रमुख के चुनाव का। चुनाव की कोई तिथि निश्चित नहीं हुई है। लेकिन संभावित उम्मीदवार और उनके समर्थक संरक्षक क्षेत्र पंचायत सदस्यों के नाक में दम कर रखे हैं। मैदान में पूर्व ब्लाक प्रमुख गीता राय के पति अवधेश राय, पूर्व ब्लाक प्रमुख विजय किशोर राय के भतीजे उत्सव राय उर्फ अप्पू एवं एल आइ सी बलिया के विकास अधिकारी सीबी राय की पत्नी के आने की संभावना है।अवधेश राय की ओर से मोर्चा विधायक अलका राय,उनके पुत्र पीयूष राय संभाल रहे हैं तो उत्सव के रथ को सांसद अफजाल अंसारी, पूर्व विधायक सिब्गतुल्लाह अंसारी, विजय किशोर राय मुन्ना हांक रहे हैं।सीबी राय को मुहम्मदाबाद सपा के विधानसभा प्रभारी राजेश राय पप्पू का आशीर्वाद और समर्थन मिला है।पैदल सेना भी तीनों ओर से आपस में जुबानी जंग लड़ रही है। राजनीतिक सूत्रों के अनुसार तीनों संभावित उम्मीदवार क्षेत्र पंचायत सदस्यों को अपने पाले में करने के लिए बोली लगा रहे हैं।शुरुआत ही एक लाख से हुई।दूसरे पक्ष ने डेढ लाख रेट खोल दिया।फिर मैदान में चक्कर लगाने के बाद यह बोली दो,ढाई होते हुए तीन तक पहुंची।अब साढ़े तीन और चार पर झूल रही है। चुनाव में लंबा समय है और दो म ई को नतीजे आने के बाद से अब तक यह नीलामी चार पर भी रुकी नहीं है।तब यह सहज ही अंदाज नहीं लगाया जा सकता है कि अंतिम तौर पर यह कहां जाकर ठहरेगी।बोली लगाने तक ही यह मामला नहीं है बोली के अनुरूप भुगतान करते चलना पड़ रहा है उम्मीदवारों को। मतलब111 सदस्यों में आधे से अधिक अपने साथ करने के लिए एक से डेढ करोड़ झोंका जा चुका है दो उम्मीदवारों की ओर से।इतना होम करने के बाद कोई भी पैर पीछे खींचने को तैयार नहीं दिख रहा। मतलब साफ है भाव आसमान छुएगा।