वरिष्ठ नोडल अधिकारी, डीएम व एसपी ने एमसीएच विंग एवं कंटेनमेंट जोन का किया निरीक्षण
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया- शासन द्वारा जनपद के नामित वरिष्ठ नोडल अधिकारी रणवीर प्रसाद, जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन एवं पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र जिला चिकित्सालय के डायलसिस सेन्टर, एमसीएच विंग, नगर के कन्टेनमेण्ट जोन प्वाईन्टों का निरीक्षण किया तथा गौरी बाजार विकास खंड अन्तर्गत ग्राम नगरौली एवं लवकनी में निगरानी समिति के कार्यो का समीक्षा किया।डायलसिस के निरीक्षण के दौरान नोडल अधिकारी द्वारा एमसीएच विंग में भी डायलसिस की सुविधा स्थापित किये जाने की अपेक्षा व्यक्त की गयी, जिस पर जिलाधिकारी ने प्रभारी को एमसीएच विंग में कोविड मरीजों के लिये डायलसिस उपकरण स्थापित किये जाने को कहा। इसके लिए उन्होंने पत्र लिखे जाने का निर्देश सीएमओ को भी दिया। एमसीएच विंग के निरीक्षण में उन्होने स्थापित होने वाले आक्सीजन प्लान्ट के उपकरण को देखा। इस दौरान नोडल अधिकारी, जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने लगे सीसीटीवी डिस्प्ले के माध्यम से मरीजों से भी उनके दवा, इलाज आदि की जानकारी किये। कहा गया कि बाहर डिस्प्ले लग जाने से अब तामीरदारों को मरीजों के इलाज आदि की जहां जानकारी हो सकेगी, वहीं वे वाकिंग-टाकिंग के माध्यम से उनके दवा, इलाज के संबंध में बातचीत भी कर सकेगें। इसके उपरान्त अधिकारियों की टीम परशुराम चैक, सीसी रोड के कन्टेनमेण्ट प्वान्टों का निरीक्षण कर कोविड अनुपालन एवं कोरोना कफ्र्यू का जायजा लिये एवं आवश्यक निर्देश तैनात कर्मचारियों को दिये। नोडल अधिकारी, जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक नगरौली एवं लवकनी ग्राम के प्राथमिक विद्यालय पहुॅचकर वहां निगरानी टीम के सदस्यों से उनके कार्यो की जानकारी किये। नगरौली में बताया गया कि एक भी कोविड पाजिटिव मरीज नही है। 5 संदिग्ध लक्षण के लोग सर्वे में पाये गये, जिन्हे दवा आदि भी दे दिया गया है। लवकनी में बताया गया कि 8 पाजिटिव मरीज से ग्राम सभा में हैं। कान्टेक्ट ट्रेसिंग का कार्य किया गया है। नोडल अधिकारी ने ग्राम प्रधान व निगरानी समिति के सदस्यों एवं उपस्थित प्रबुद्धजनों को लोगो को कोविड वैक्सीनेशन कराने, कोरोना कफ्र्यू एवं कोविड प्रोटोकाल का पालन करने हेतु लोगो को जागरुक करने को कहा गया। इस दौरान यह भी कहा गया कि सीएचसी पर स्थापित कन्ट्रोल रुम एवं जनपद स्तरीय कन्ट्रोल रुम का नम्बर प्रसारित कर दिया जाये और निगरानी समितियों के पास अनिवार्य रुप से उपलब्ध रहे, यह सुनिश्चित कराया जाये, ताकि वे किसी भी आकस्मिकता की दशा में सम्पर्क कर मरीजों को इलाज आदि सुविधायें उपलब्ध करा सकें। निरीक्षण के दौरान सीएमओ डा आलोक पाण्डेय, एसडीएम सदर सौरभ सिंह, नगरोली एवं लवकनी में पी डी संजय पाण्डेय, ग्राम प्रधान गण सहित अन्य संबंधित अधिकारी, कर्मचारी गण आदि उपस्थित रहे।