पंचायत चुनाव में हारे प्रत्‍याशी ने ग्राम प्रधान को मारी गोली
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
चुनावी रंजिश में समर्थक की बात पर एक हारे हुए प्रत्याशी ने चुने गए प्रधान को गोली मार दी। पेट में गोली लगने से ग्राम प्रधान की स्थिति गंभीर है। जिला अस्पताल से उसे मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है। घटना के बाद तनाव को देखते हुए गांव में दो थानों की पुलिस तैनात कर दी गई है। पुलिस मामले में एक व्यक्ति को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में बैतालपुर विकासखंड के नेरूई अमवा गांव निवासी मन्नू सिंह ग्राम प्रधान चुने गए हैं। चुनाव के दौरान लगभग आधा दर्जन प्रत्याशी मैदान में थे। मंगलवार की रात गांव के एक व्यक्ति के वहां तिलक समारोह था। तिलक से भोजन करने के बाद गांव का ही एक युवक प्रधान मन्नू सिंह के दरवाजे के सामने से गुजरा। आरोप है कि उसने मन्नू सिंह को मूर्ख कहते हुए गांव वालों को कोसना शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि उसने उन्हें अपशब्द भी कहा। इस पर प्रधान ने उसकी जमकर फटकार लगाई और घर के सामने से भाग जाने को कहा। इस पर उक्त युवक एक हारे हुए प्रत्याशी के पास पहुंचा और उससे अनाप-शनाप कहने लगा। चुनाव में हार से बौखलाए प्रत्याशी ने अपना असलहा निकाला और सीधे ग्राम प्रधान मन्नू सिंह के दरवाजे पर पहुंच गया।आरोप है कि उसने मन्नू सिंह को ललकारते हुए फायर झोंक दिया। मन्नू सिंह के पेट में गोली लग गई और वह जमीन पर गिरकर तड़पने लगे। फायरिंग की आवाज सुनते ही गांव में दहशत मच गई। लोग अपने अपने घरों के दरवाजे बंद कर लिए। परिजनों ने फायरिंग की सूचना पुलिस को देते हुए घायल प्रधान को लेकर सदर अस्पताल पहुंचे। जहां हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने मेडिकल कॉलेज गोरखपुर के लिए रेफर कर दिया। मामले की सूचना उच्चाधिकारियों को देते हुए महुआडीह थानाध्यक्ष राम मोहन सिंह घटनास्थल पर पहुंच गए। इसी दौरान उच्चाधिकारियों के आदेश पर रामपुर कारखाना थानाध्यक्ष भी भारी संख्या में पुलिस फोर्स लेकर गांव पहुंचे। गांव में दोनों थानों की पुलिस जमी हुई है।इस संबंध में पुलिस अधीक्षक डा0श्रीपति मिश्र ने बताया कि चुनावी रंजिश में निर्वाचित प्रधान को हारे हुए प्रत्याशी ने गोली मारी है। हालात को देखते हुए गांव में पुलिस मुस्तैद है। मामले में आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है। पुलिस जल्द ही सभी दोषियों को गिरफ्तार कर लेगी।