जल जीवन मिशन की योजनाओं का डीपीआर तत्कालिक रुप से करें तैयार -डीएम आशुतोष निरंजन
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया - जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने जल जीवन मिशन हर घर नल योजना की समीक्षा के दौरान निर्देश दिया है कि इससे संबंधित कार्य परियोजनाओं की डीपीआर प्राथमिकता के साथ उसे तैयार करें तथा इसके लिये सर्वे कार्य को भी कार्यदायी एजेन्सियां पूरी तत्परता से सुनिश्चित करें। उन्होने यह भी कहा है कि ग्राम पंचायतों में जमीन की उपलब्धता के प्रकरण हो उसे मुख्य राजस्व अधिकारी संबंधित विभागो के साथ समन्वय करते हुए अनुश्रवण कर जमीनो की उपलब्धता सुनिश्चित करायें। उन्होने संबंधित विभागो को पूरी सक्रियता बरते जाने का निर्देश दिया है। कहा है कि इसमें किसी प्रकार की कोई कोताही न हो। जिलाधिकारी श्री निरंजन गूगल मीट के माध्यम से इस योजना की समीक्षा कर रहे थे। उन्होने बेसिक शिक्षा विभाग के ऐसे विद्यालयों जहां समरवेल की कार्य परियोजना लगायी जानी है, उनमें भी प्राथमिकता के साथ कार्य किये जाने का निर्देश दिया है तथा ऐसे विद्यालय जहां समरवेल परियोजना पूरी हो गयी है, उसे हैण्डओवर किये जाने का निर्देश कार्यदायी संस्था को दिया है। इस दौरान उन्होने ऐसे कार्य परियोजनायें जो 75 प्रतिशत से अधिक पूर्ण हो चुके है उसे एक माह के अन्दर हर हाल में पूर्ण किये जाने का निर्देश दिया है। उन्होने अधिशासी अभियंता जल निगम एवं अधीक्षण अभियंता विद्युत को आपसी समन्वय के साथ पेय जल की परियोजनाओं का विद्युतीकरण भी किये जाने का निर्देश दिया है। उन्होने कहा है कि यह योजना जन सुविधाओं से जुडी हुई महत्वपूर्ण योजना है। इसमें किसी प्रकार के शिथिलता कदापि न हो। इस बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जीएन, सीआरओ अमृत लाल बिन्द, अधिशासी अभियंता जल निगम प्रदीप चैरसिया, बीएसए सन्तोष राय, कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि गण, जल निगम विभाग के अवर अभियता गण आदि संबंधित जन जुडे रहे।