पुलिस के हत्थे चढ़े नकाबपोश गैंग के 4 सदस्य, ऐसे देते थे वारदात को अंजाम
कृपाशंकर यादव की रिपोर्ट।
गाजीपुर । सदर कोतवाली पुलिस ने नकाबपोश गैंग के 4 सदस्यों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। पकड़े गए नकाबपोश गैंग के पास से चोरी का सामान भी बरामद किया है। मामले का खुलासा एसपी के निर्देश पर कोतवाली में कोतवाल विमल मिश्रा ने मीडिया के सामने पेश कर किया। मामले में एसपी डॉ ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि कोतवाली क्षेत्र में बजरंगआईटीआई कालेज में नकबजनी की घटना हुई थी। जिसमे स्कूल से प्रिंटर, बैटरी, इनवर्टर आदि की चोरी हुई थी मामले में कोतवाली पुलिस ने बेहतर वर्कआउट किया है इस वर्कआउट से नकाबजनी की घटना पर रोक लगेगी। कोतवाली पुलिस की इस कामयाबी में एसपी की तरफ से 5 हजार के इनाम घोषणा की गई है। बता दें कि कोतवाली पुलिस के फंदे में मौजूद नकाबपोश गैंग के 4 सदस्य वारदात से पहले ईरिक्सा के माध्यम से पहले रेकी करते थे। उसके बाद घटना को अंजाम देते थे। इस गैंग की बारदात का ताजा मामला बजरंग आईटीआई कालेज से नकबजनी कर चोरी की घटना को अंजाम दिया था। कोतवाल विमल मिश्रा और अभी हाल ही में बुजुर्गा चौकी पर प्रभारी के तौर पर तैनात सुनील तिवारी ने मुखबीर की सूचना के आधार पर सदर कोतवाली के बिलैचिया मोड़ के पास से नकाबपोश गैंग के चार चोरों को गिरफ्तार किया। उनके पास से चोरी का सामान बरामद किया। जिसमें चोरी का एक प्रिंटर, एक पंखा, दो बैट्री और ईन्वर्टर बरामद किया। पकड़े गए अभियुक्तों में मिश्रवलिया निवासी सोनू बिंद, अहिरौली के अविनाश, हरेंद्र बिंद और चक दरार निवासी रामबाबू शामिल है। अभियुक्तों का संबंधित धाराओं में चालान कर दिया। गिरफ्तार करने वाली टीम को एसपी ने 5 हजार ईनाम की घोषणा की है।पुलिस इन अभियुक्तों का पिछला आपराधिक इतिहास खंगालने में जुटी।