जो कहा,सो किया, बजबजाती नालियों की सफाई के बाद मलबा हटाने का काम भी शुरू
विमल मिश्रा की रिपोर्ट लखीमपुर खीरी।जिले की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत लुधौरी में ऐसा पहले तो कभी नहीं हुआ।लेकिन जब जनता ने इतने रिकार्ड अंतर से बदलाव किया है तो फिर व्यवस्था में भी बदलाव आना भी चाहिए था।अब यह बदलाव दिखने भी लगा है।जिले की निघासन ब्लाक की लुधौरी ग्राम पंचायत में पहले नालियों की सफाई व्यवस्था का कोई पुरसाहाल नहीं था।गंदगी और कूड़ा करकट से नालियां हमेशा सराबोर और बजबजाती रहतीं थी।कभी किसी अधिकारी या नेता का दौरा हुआ,तो थोड़ी बहुत सफाई की औपचारिकता कर दी जाती थी।लेकिन नालियों से जो कूड़ा करकट और मलबा निकलता था,वह वहीं सड़क के किनारे डाल दिया जाता था।नतीजा यह होता था कि धीरे धीरे वह मलबा और कूड़ा करकट फिर से उसी नाली में पहुंच जाता था।सड़क किनारे मलबा सड़ने के लिए लगा दिए जाने से राहगीरों के साथ-साथ आसपास रहने वाले लोगों को भी काफी दिक्कत होती थी।इससे ग्राम पंचायत के पैसे की भी बर्बादी होती थी।लेकिन बीती दो मई को लुधौरी की जनता ने जो ऐतिहासिक जनादेश दिया उसका सम्मान करते हुए ग्राम प्रधान रंजना जायसवाल और प्रधानपति/प्रतिनिधि मनोज जायसवाल ने बाकायदा सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को आश्वस्त किया कि अब नालियों की सफाई तो नियमित रूप से होगी ही,साथ में नालियों से निकला कूड़ा करकट और मलबा भी वहां से हटवाया जाएगा।ग्राम प्रधान ने अपनी इस घोषणा को अमलीजामा भी पहनाना शुरू कर दिया है नालियों की सफाई के बाद जो भी कूड़ा करकट और मलबा निकला था,उसे ट्राली में भरकर वहां से हटाये जाने का काम शुरू हो गया है।ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान के इस कार्य की सराहना की है।