अस्पतालों में डॉक्टर नही प्राइवेट लड़का संभाल रहा है इमरजेंसी केस।
ब्यूरो चीफ महराजगंज
धानी (महराजगंज): इसे रसूख का दम कहें, सीनाजोरी कहें या सफेदपोशों का संरक्षण.. अब धानी सीएचसी पर तैनात डॉक्टर जनता के जान के साथ खिलवाड़ कर रहे है।  डॉक्टर अपनी मनमानी से बाज नहीं आ रहे हैं। धानी सीएचसी के डॉक्टर अब अपने तो अस्पताल आते नही और अपने जगह एक ऐसे प्राइवेट लड़के को इमरजेंसी की जिम्मेदारी दे दिए है जो अप्रशिक्षित है।  कहने के लिए तो धानी सीएचसी पर लगभग आधा दर्जन डॉक्टरो की तैनाती है लेकिन उनका आना तो दूर.. दर्शन भी दुर्लभ हो गया है।  रविवार को सुबह में हुए बाइक दुर्घटना में घायल लड़के सीएचसी धानी पहुँचे तो वहाँ डॉक्टर नही मिले बल्कि उनके जगह वह प्राइवेट अप्रशिक्षित लड़का मिला जिसे  RBSK के डॉक्टर ने डॉक्टर साहबान को आराम फरमाने के लिए या अपने सुविधा के लिए स्वयं तैनात किया है।  उक्त बातें उस युवक ने बतायी और कहा कि हम यहाँ रहकर सभी मरीजो का इलाज करते हैं। जो भी मरीज आते है उन सभी का इलाज हम करते हैं।  सोचने वाली बात यह है कि जिस कोविड से लड़ने के लिए पूरा देश व सरकार परेशान है ऐसे कोविड मरीजो को भी यह डॉक्टर एक ऐसे लड़के के द्वारा इलाज करवा रहे है जिसे मेडिकल के बारे में कोई जानकारी ही नही।