मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत परिणय सूत्र में बंधे 86 जोड़े
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया-मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत विधानसभावार आयोजित सामूहिक विवाह कार्यक्रम में कुल 86 जोडे दाम्पत्य सूत्र में बधे, जिसमें 71 हिन्दू जोडो का विवाह वैदिक रीति अनुसार तथा 15 मुस्लिम जोडो का निकाह कराया गया। विधानसभा पथरदेवा के ब्लाक मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, रुद्रपुर विधानसभा में आयोजित इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्य मंत्री पशुधन जय प्रकाश निषाद एव सीडीओ शिव शरणप्पा जीएन, सदर ब्लाक में मुख्य अतिथि गन्ना विकास उपाध्यक्ष नीरज शाही, सलेमपुर में जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन एवं पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र एवं बरहज में आयोजित इस सामूहिक विवाह कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुवर पंकज, चेयरमैन नगरपालिका परिषद गौरा बरहज सिरकत किए व बर बधु को आर्शीवाद व शुभाकामनाएं मुख्य अतिथियों द्वारा दी गयी। पथरदेवा में आयोजित इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कृषि मंत्री श्री शाही ने कहा कि गरीबों की शादी धूमधाम एवं भव्यता के साथ सुनिश्चित हो, इसके लिये मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना संचालित की गयी है। आज इसी योजना के तहत यह भव्य कार्यक्रम आयोजित हुआ। उन्होने कहा कि यह अत्यन्त ही सराहनीय तथा बेटी को संरक्षण देने वाला योजना है। उन्होने नव दम्पतियों को विवाह बंधन की शुभकामनाये देते हुए उनके उज्वल भविष्य की कामना की। रुद्रपुर के इस कार्यक्रम के बतौर मुख्य अतिथि मत्स्य राज्य मंत्री श्री निषाद ने कहा कि सबका साथ-सबका विकास के साथ गरीबों के कल्याण का कार्य किया जा रहा है। उन्होने नवदम्पतियों के जीवन सार्थक एवं मंगलमय हो, इसकी कामना की। सदर विकास खण्ड के मुख्य अतिथि उपाध्यक्ष गन्ना विकास संस्थान नीरज शाही ने भी विवाहित जोडो के मंगलमय जीवन की शुभाकामना दिए।जिलाधिकारी श्री निरंजन ने कहा कि यह अत्यन्त ही महत्वाकांक्षी योजना है, ऐसे गरीब परिवार जो अर्थाभाव के कारण अपनी पुत्रियों की शादी में काफी दिक्कतें महसूस करते हो, उनके इस कठिनायी के दृष्टिगत यह योजना चलायी गयी है। गरीब परिवारों की शादियां बडे ही धूमधाम एवं भव्यता के साथ इसके तहत सम्पन्न करायी जाती है। उन्होने यह भी कहा कि इस योजना के तहत कन्या के बैंक खातें में 35 हजार की धनराशि दी जाती है तथा 10 हजार रुपए के गृहस्थी के सामान दिए जातें है एवं 6 हजार रुपए प्रति जोडे आवश्यक व्यवस्थाओं पर खर्च की जाती है। इस प्रकार प्रति जोड 51 हजार की धनराशि की अनुमन्यता इस योजना के तहत की गयी है।पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र ने कहा कि यह अत्यन्त ही पवित्र योजना है। आज इसके माध्यम से एक साथ एक मण्डप में दाम्पत्र सूत्र में बडी संख्या में बध रहे है, जिसके हम सभी साक्षी है। उन्होने सभी जोडो को शुभकामनायें दीं। देवरिया सदर में 12, बरहज में 13, पथरदेवा में 17, सलेमपुर में 29, रुद्रपुर में 15 जोडे सहित कुल 86 वर वधू दाम्पत्य सूत्र में बंधे, जिन्हे गृहस्थी के सामानो को प्रदान करते हुए उन्हे अतिथियों, प्रबुद्धजनो आदि के द्वारा विदा किया गया। पथरदेवा में आयोजित इस कार्यक्रम में जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय, खंड विकास अधिकारी पथरदेवा, तरकुलवा, देसही देवरिया, रुद्रपुर में खंड विकास अधिकारी रुद्रपुर, सदर में उप जिलाधिकारी सदर, खंड विकास अधिकारी सदर व जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्ण कांत राय, सलेमपुर के इस विवाह कार्यक्रम में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी व प्रभारी समाज कल्याण अधिकारी नीरज अग्रवाल, खण्ड विकास अधिकारी सुधा सिंह, ओम प्रकाश, ज्ञान प्रकाश एवं बरहज में खंड विकास अधिकारी बरहज एवं भलुअनी सहित अन्य संबंधित अधिकारी, कर्मचारी, क्षेत्रीय प्रबुद्धजन एवं परिजन आदि उपस्थित रहे।