विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर सीएमओ कार्यालय में आयोजित हुई संगोष्ठी
बिछिया बहराइच से अभयजीत प्रजापति की रिपोर्ट
(बहराइच) विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय सभागार में संगोष्ठी आयोजित की गयी। संगोष्ठी में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.राजेश मोहन श्रीवास्तव ,अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.जयंत कुमार, उप जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी बृजेश सिंह, जिला समन्वयक डीएफपीएस राम बरन यादव, ममता संस्था के कार्यक्रम प्रबन्धक अखिलेश शुक्ला, मोवियस फाउंडेशन, सेव द चिल्ड्रेन के प्रतिनिधि, स्वास्थ्य विभाग व बाल विकास पुष्टाहार के अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रहे। संगोष्ठी के दौरान सीएमओ द्वारा ‘‘आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी’’ विषय पर प्रकाश डाला गया। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ जयन्त कुमार ने बताया कि पिछले 40 वर्षो में प्रदेश की जनसंख्या चार गुना बढ़ कर 23 करोड़ से ऊपर हो गयी है। यदि समय रहते जनसंख्या नियंत्रण नहीं किया गया तो इसका प्रत्येक क्षेत्र में प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। जनसंख्या नियंत्रण कर स्वस्थ्य समाज, स्वस्थ्य राष्ट्र की नींव रख सकते हैं। उप जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी श्री सिंह ने बताया कि जनसंख्या नियंत्रण के द्वारा हम मातृ मृत्यु दर, शिशु मृत्यु दर में कमी ला सकते हंै। सरकार का लक्ष्य है सकल प्रजनन दर को 2.8 से घटाकर 2026 तक 2.1 तथा 2030 तक 1.9 तक ले जाना है। जनसंख्या नियंत्रण नीति द्वारा सक्षम राष्ट्र की नींव रख सकते हंै। जनसंख्या नियंत्रण के लिए 11 जुलाई से 31 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा के दौरान समस्त स्वास्थ्य इकाईयों पर परिवार नियोजन की सभी सुविधाएं प्रदान की जायेगी। जिला समन्वयक परिवार नियोजन राम बरन यादव द्वारा बताया गया कि प्रत्येक माह 21 तारीख को खुशहाल दिवस व अन्तरा दिवस के माध्यम से परिवार नियोजन को सीमित करने हेतु कार्यक्रम संचालित किये जा रहे हैं। ममता संस्था के अखिलेश द्वारा बताया गया कि 1989 में जनसंख्या नियंत्रण हेतु 11 जुलाई को प्रथम बार विश्व जनसंख्या दिवस का आयोजन किया गया। जिसका मुख्य उद्देश्य परिवार को सीमित रखने हेतु आम जनमानस को जागरूक करना है। विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर मोवियस फाण्डेशन, सेव द चिल्ड्रेन तथा ममता संस्था द्वारा परिवार नियोजन सुविधाओं के लिए स्टाल लगाकर परिवार नियोजन के विधियों से सम्बन्धित सामग्री का वितरण व प्रचार-प्रसार किया गया। साथ ही प्रचार-प्रसार वाहन को भी हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया। इस अवसर पर स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी अशफाक अहमद, प्रशासनिक अधिकारी के.एन. उपाध्याय, कनिष्ठ सहायक निशांत श्रीवास्तव, दीपक प्रशान्त शुक्ला, सेव द चिल्ड्रेन के प्रतिनिधि व अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे।