विकासखंड बांसी में परिवारों का सहारा बना गोवंश खुद मर रहा बेमौत
दुर्गेश मूर्तिकार
सिद्धार्थनगर। जहां एक तरफ प्रदेश की योगी सरकार गोवंशो के संरक्षण के लिए तमाम गौशालाएं बनवा रखी है और लाखो रुपए ग्राम पंचायतों के माध्यम से हर गौशालाओं को उनकी देखभाल के लिए उपलब्ध कराती है। वहीं संरक्षण के नाम पर ब्लाक के जिम्मेदारों की खाउ कमाऊ नीति के कारण तमाम गोवंश मर रहे हैं तो वही अधिकांश मरने के कागार पर है। शुक्रवार को विकास खण्ड बांसी के ग्राम पंचायत उसका के खजुरिया में बने गौशाला पर आधा दर्जन गोवंश मरे व मरणासन्न अवस्था में मिले। बताया जाता है कि ब्लाक के जिम्मेदारों की अनदेखी तथा समय से चारा भूसा न उपलब्ध कराने के कारण व गौशाला मे साफ सफाई व्यवस्था न होने के कारण तमाम गोवंश मर रहे हैं और कुछ मरणासन्न अवस्था में है जिनके शरीर में कीड़े पड़ गये है। जिसका राष्ट्रीय स्वरुप न्यूज पेपर 29जून 2021 को उक्त गौशालाओं की खबर प्रकाशित किया था कि जिम्मेदारों की लापरवाही से गौशालाओं में नही मिल रहा पशुओं को चारा,कई पशु बीमार परन्तु जिम्मेदारों द्वारा कोई व्यवस्था नहीं की गई। जहां एक तरह से ब्लाक के जिम्मेदार जिलाधिकारी दीपक मीणा के निर्देशो की अवहेलना करने से भी नहीं चूक रहे हैं।