कई स्टाफ मिले नदारद सीएमओ ने दिया वेतन रोकने का आदेश*
कृपाशंकर यादव
गाजीपुर । नवागत मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ हरगोविंद सिंह के द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण लगातार किया जा रहा है। इसी के क्रम में शुक्रवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनिहारी और जखनिया का औचक निरीक्षण किया गया। इस दौरान मनिहारी स्वास्थ्य केंद्र पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी के द्वारा सब कुछ ठीक-ठाक पाया गया। वही जखनिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर चिकित्सा अधीक्षक डॉ योगेंद्र यादव पिछले 3 दिनों से बिना किसी पूर्व सूचना के नदारद मिले। कई अन्य स्टाफ भी गायब मिले जिसको लेकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी के द्वारा सभी का वेतन रोकने का निर्देश दिया गया है। एसीएमओ डॉ प्रगति कुमार ने बताया कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ हरगोविंद सिंह के द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनिहारी पर औचक निरीक्षण किया गया ।वहां पर सभी डाक्टर और स्टाफ मौके पर मिले और सफाई और अन्य व्यवस्था दुरुस्त पाई गई । इसके पश्चात मुख्य चिकित्सा अधिकारी के द्वारा जखनिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण किया गया। वहां पर चिकित्सा अधीक्षक डॉ योगेंद्र। यादव बिना किसी पूर्व सूचना के पिछले 3 दिन से गायब मिले। इसके अलावा डॉ अभिषेक मौर्य डेंटल सर्जन, अनिल कुमार नेत्र परीक्षण अधिकारी ,माया सोनकर डेंटल हाइजीनिस्ट, सुनीता भारतीय एएनएम, उषा यादव एएनएम ,साधना निगम एएनएम, राजेश कुमार यादव डीआरए, शिव लाल यादव lt, राजेेश प्रजापति स्टाफ नर्स पुरुष ,सुनील कुमार यादव वार्ड बॉय ,अवधेश गुप्ता एसटीएस एवं डॉ एस के सिंंह एमओ आरबीएसके ड्यूटी से नदारद मिले। जिस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी के द्वारा कड़ी आपत्ति जाहिर करते हुए सभी का वेतन रोकने का आदेश दीया। इसके अलावा केंद्र पर स्टॉक रजिस्टर भी अपडेट नहीं मिला और सफाई व्यवस्था दुरुस्त नहीं मिलने पर अपनी नाराजगी जाहिर किया।